अपना शहर चुनें

States

Bird Flu: छत्तीसगढ़ के दो और जिलों में बर्ड फ्लू की पुष्टि, पूरे प्रदेश में अलर्ट जारी

अधिकारी ने बताया, ‘‘ रविवार को इन सभी तीन नमूनों में एच5एन8 एवियन इंफ्लुएंजा वायरस की पुष्टि हुई.’’  (सांकेतिक फोटो)
अधिकारी ने बताया, ‘‘ रविवार को इन सभी तीन नमूनों में एच5एन8 एवियन इंफ्लुएंजा वायरस की पुष्टि हुई.’’ (सांकेतिक फोटो)

दंतेवाड़ा के बचेली कस्बे में एक कौआ मृत पाया गया था, जिनके नमूने 14 जनवरी को भोपाल के राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान (NIHSAD) में भेजा गया था.

  • Last Updated: January 19, 2021, 7:29 AM IST
  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बस्तर और दंतेवाड़ा जिले में बर्ड फ्लू (Bird Flu) से तीन पक्षियों की मौत की पुष्टि हुई है. राज्य के पशु चिकित्सा सेवा विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि इसके साथ ही राज्य के बस्तर, दंतेवाड़ा और बालोद जिलों में एवियन इंफ्लुएंजा के मामलों की पुष्टि हो गई. उन्होंने बताया कि बस्तर जिले के मुख्यालय जगदलपुर में अलग-स्थानों पर एक कौआ और एक कबूतर मृत पाए गए थे. वहीं, दंतेवाड़ा के बचेली कस्बे में एक कौआ मृत पाया गया था, जिनके नमूने 14 जनवरी को भोपाल के राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान (NIHSAD) में भेजा गया था.

अधिकारी ने बताया, ‘‘ रविवार को इन सभी तीन नमूनों में एच5एन8 एवियन इंफ्लुएंजा वायरस की पुष्टि हुई.’’ अधिकारी ने बताया कि हालांकि अब तक इन दो जिलो में पोल्ट्री पक्षियों में संक्रमण की खबरें नहीं आई हैं. उन्होंने बताया कि संबंधित मामलों के मद्देनजर राज्य के सभी जिलों को अलर्ट पर रखा गया है और केंद्र सरकार की ओर से जारी दिशा-निर्देशों का पालन करने के लिए कहा गया है.

नमूनों में एवियन इंफ्लुएंजा की पुष्टि हुई थी
बस्तर जिले में पशु चिकित्सा सेवा की संयुक्त निदेशक लक्ष्मी अजगले ने बताया कि जैविक-सुरक्षा दिशानिर्देशों के अनुसार जगदलपुर में जिन दो स्थानों पर पक्षी मरे हुए पाए गए, वहां एक किलोमीटर के दायरे को ‘संक्रमित क्षेत्र’ घोषित कर दिया गया है. त्वरित प्रतिक्रिया टीम ने जरूरी कदमों को उठाना शुरू किया है. ऐसा ही कदम दंतेवाड़ा के बचेली कस्बे में भी उठाया गया है. पिछले सप्ताह बालोद जिले के एक पोल्ट्री फार्म में कुछ मरे मुर्गों के नमूनों में एवियन इंफ्लुएंजा की पुष्टि हुई थी.
54 अन्य पक्षी मृत पाए गए


वहीं, कुछ देर पहले खबर सामने आई थी कि राजस्थान में सोमवार को 245 और पक्षियों की मौत हो जाने से राज्य में अब तक कुल 5540 मृत पक्षी मिल चुके हैं. राज्य के 33 जिलों में से 17 जिले ‘बर्ड फ्लू’ संक्रमण से प्रभावित हैं. पशुपालन विभाग के अनुसार, 27 जिलों में पक्षियों के 267 नमूनों में से 67 नमूनों की जांच में संक्रमण पाया गया है. पशुपालन विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, सोमवार को 175 कौवे, 13 कबूतर, तीन मोर और 54 अन्य पक्षी मृत पाए गए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज