कश्मीर में धारा 370 हटाने को बीजेपी ने बनाया अभियान, घर-घर जाकर गिना रही फायदे

ऑनलाइन की जगह ऑफलाइन टेंडर जारी करने के निर्णय पर छत्तीसगढ़ बीजेपी ने बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार की आशंका जतायी है. सांकेतिक फोटो.
ऑनलाइन की जगह ऑफलाइन टेंडर जारी करने के निर्णय पर छत्तीसगढ़ बीजेपी ने बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार की आशंका जतायी है. सांकेतिक फोटो.

केन्द्र सरकार द्वारा जम्मू एंव कश्मीर (Jammu and Kashmir) से धारा 370 व 35ए हटाए जाने बीजेपी (BJP) देशभर में भुनाना चाहती है.

  • Share this:
रायपुर. केन्द्र सरकार द्वारा जम्मू एंव कश्मीर (Jammu and Kashmir) से धारा 370 व 35ए हटाए जाने बीजेपी (BJP) देशभर में भुनाना चाहती है. इसके तहत बीजेपी राष्ट्रीय एकता अभियान के तहत पूरे देश में घर-घर जा कर धारा 370 और 35ए को जम्मू एंव कश्मीर से हटाए जाने को लेकर उसके फायदे गिना रही है. बीजेपी के इस अभियान पर कांग्रेस (Congress) ने तंज कसा है. कांग्रेस ने इसे बीजेपी का ढोंग करार दिया है. इसको लेकर छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में भी सियासत शुरू हो गई है.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में बीजेपी (BJP) एक राष्ट्र एक संविधान की महत्ता को लेकर घर घर जा रही है. बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने धारा 370 हटाने को ऐतिहासिक संकल्प बताते हुए इसे पूर्व की कांग्रेस सरकार की ऐतिहासिक भूल करार दिया. बीजेपी धारा 370 हटाए जाने के फायदे पम्प्लेट के माध्यम से बता रही है. बीजेपी धारा 370 को लेकर कश्मीर में फैली भ्रांतियों को दूर करने में लगी हुई है और इस अभियान को काट के रुप में उपयोग कर रही है.

कांग्रेस ने लगाए ये आरोप
बीजेपी के इस अभियान को लेकर प्रदेश कांग्रेस ने आरोप लगाए हैं. कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी का कहना है कि भाजपा धारा 370 को लेकर ढोंग कर रही है. विकास तिवारी ने कहा कि कश्मीर के मुद्दे को छत्तीसगढ़ की जनता से क्या सरोकार है. बीजेपी को यहां के मुद्दों को उठाना चाहिए, लेकिन प्रदेश सरकार ने जिस तरह से 9 महीने में काम किया है, प्रदेश में बीजेपी के लिए कोई मुद्दा ही नहीं बचा है. इसलिए अब कश्मीर के मुद्दे को छत्तीसगढ़ में भुनाना चाहती है.
ये भी पढ़ें: सुकमा के CRPF कैंप पर रात में मंडराता है 'नक्सली ड्रोन'! जांच में जुटी एजेंसी 



हाई कोर्ट में लगातार फेल हो रही है छत्तीसगढ़ सरकार, इन मामलों में लगा करारा झटका 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज