लाइव टीवी
Elec-widget

खत्म होगा नगरीय निकाय चुनाव पर सस्पेंस, आज हो सकता है तारीखों का ऐलान, फिर लगेगी आचार संहिता

News18 Chhattisgarh
Updated: November 25, 2019, 12:43 PM IST
खत्म होगा नगरीय निकाय चुनाव पर सस्पेंस, आज हो सकता है तारीखों का ऐलान, फिर लगेगी आचार संहिता
अप्रत्यक्ष तौर पर मेयर और अध्यक्ष का चुनाव कराने पर कैबिनेट ने मुहर लगाई थी . (File Photo)

तारीखों के ऐलान के बाद सूबे में आदर्श चुनाव संहिता (Model Code of Conduct) भी लग जाएगी. बता दें कि निकाय चुनाव को लेकर काफी दिनों से सस्पेंस जारी है. 151 नगरीय निकायों में इस साल चुनाव होने वाले हैं.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ में होने वाले नगरीय निकाय चुनाव (Urban Body Election) पर मचे घमासान पर ब्रेक लग सकता है. मिली जानकारी के मुताबिक सोमवार को नगरीय निकाय चुनाव की अधिसूचना (Notification) जारी की जा सकती है. बता दें कि राज्य निर्वाचन आयोग (Election Commission) दोपहर 3 बजे एक प्रेसवार्ता करने वाला है. माना जा रहा है कि इसी पीसी में आयोग की ओर से निकाय चुनाव के तारीखों का ऐलान कर दिया जाएगा. तारीखों के ऐलान के बाद सूबे में आदर्श चुनाव संहिता (Model Code of Conduct) भी लग जाएगी. बता दें कि निकाय चुनाव को लेकर काफी दिनों से सस्पेंस जारी है. 151 नगरीय निकायों में इस साल चुनाव होने वाले हैं.

निकाय चुनाव को लेकर राजनीति तेज

गौरतलब हो कि नगरीय निकाय चुनाव में सरकार ने एक बड़ा फेरबदल किया था. मध्य प्रदेश की तरह अब छत्तीसगढ़ में भी अप्रत्यक्ष तरीके से निकाय चुनाव करने का फैसला लिया गया था. इसमें पार्षद महापौर का चुनाव करेंगे. इसके लिए सरकार ने मंत्रिमंडलीय उप समिति का भी गठन किया था. इस कमेटी में संसदीय कार्य मंत्री रविन्द्र चौबे, मंत्री शिव डहेरिया और मंत्री मोहम्मद अकबर को सदस्य बनाया गया है. इसी कमेटी की अनुशंसा ने सरकार ने ये फैसला लिया था.



विपक्ष ने किया था विरोध

अप्रत्यक्ष तरीके से निकाय चुनाव कराने के फैसले का विपक्ष ने जमकर विरोध किया था. जेसीसी ने इस फैसले को जनता का अधिकार छीनना बताया था. जनता कांग्रेस ने दलबदल कानून के प्रावधानों को नगरीय निकाय चुनाव में लागू करने की मांग की थी. तो वहीं बीजेपी ने कहा था कि 9 महीनों की यात्रा में कांग्रेस सरकार की हालत काफी कमजोर हो चुकी है. सरकार लोगों से डरने लगी है. जनता के हक को छीनने की साजिश कांग्रेस कर रही है. कांग्रेस को नगरीय निकाय चुनाव में हार का डर सता रहा है. इसलिए सरकार ने अपने ट्रैक ही बदल दिया है.

ये भी पढ़ें: 
Loading...

ग्रामीण नक्सलियों ने की थी किरंदुल में आगजनी, पुलिस ने तैयार की 38 आरोपियों की लिस्ट! 

विधानसभा का शीतकालीन सत्र आज से, इन मुद्दों पर सरकार को घेर सकता है विपक्ष 

सुरक्षा बल के साथ मुठभेड़ में मारे गए दो नक्सली, मौके से हथियार बरामद 

पूर्व सांसद डॉ. बंशीलाल महतो का निधन, 79 की उम्र में ली अंतिम सांस   

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 25, 2019, 12:11 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...