Home /News /chhattisgarh /

chhattisgarh 3 highways will be included in bharatmala project 2 nitin gadkari gave confidence see full list cgnt

भारतमाला परियोजना-2 में शामिल होंगी छत्तीसगढ़ की ये सड़कें, नितिन गडकरी ने दिया भरोसा, देखें लिस्ट

केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने छत्तीसगढ़ की तीन सड़कों को भारतमाला परियोजना-2 में शामिल करने का भरोसा दिया.

केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने छत्तीसगढ़ की तीन सड़कों को भारतमाला परियोजना-2 में शामिल करने का भरोसा दिया.

केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने छत्तीसगढ़ में नई सड़कों को भारतमाला परियोजना-2 में शामिल करने का भरोसा राज्य सरकार को दिया है. राज्य में 33 परियोजनाओं के तहत 9 हजार 240 करोड़ रुपयों की लागत से नई सड़कें व ओवर ब्रिज बनाए जाएंगे. इन विकासकार्यों का शिलान्यास राजधानी रायपुर में केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी द्वारा किया गया.

अधिक पढ़ें ...

रायपुर. छत्तीसगढ़ में भारतमाला परियोजना-2 के तहत नई सड़कों को शामिल किया गया है. केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने छत्तीसगढ़ सरकार को भरोसा दिलाया है कि भारतमाला परियोजना-2 के तहत नई सड़कें राज्य में बनेंगी. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने छत्तीसगढ़ में 9240 करोड़ रुपये की लागत की 33 सड़क परियोजनाओं का लोकार्पण-शिलान्यास किया. मुख्यमंत्री बघेल ने केंद्रीय मंत्री से रायगढ़-घरघोड़ा-धरमजयगढ़- पत्थलगांव मार्ग, अंबिकापुर-वाड्रफनगर-बम्हनी-रेनकूट-बनारस मार्ग, पंडरिया-बजाग-गाड़ासरई मार्ग को भारत माला योजना में स्वीकृति देने की मांग रखी.

केन्द्रीय मंत्री ने भारत माला परियोजना-2 में स्वीकृति का आश्वासन दिया. नितिन गडकरी ने कहा कि छत्तीसगढ़ विकास की दौड़ में लगातार आगे है. समारोह राजधानी रायपुर के पंडित जवाहरलाल नेहरू मेमोरियल मेडिकल कॉलेज में सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय भारत सरकार तथा भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा आयोजित किया गया. इन सड़कों के बनने से छत्तीसगढ़ के पड़ोसी राज्यों उड़ीसा, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, झारखंड, उत्तर प्रदेश से कनेक्टिविटी ज्यादा अच्छी हो जाएगी. प्रदेश के पिछड़े क्षेत्र के लिए सुचारू रोड नेटवर्क विकसित होगा. इससे ईंधन, यात्रा समय, दूरी और कुल परिवहन लागत में बचत होगी.

बनेंगी ये नई सड़कें
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ केे तीन मार्गो- रायगढ़-घरघोड़ा-धरमजयगढ़- पत्थल गांव मार्ग, लंबाई 75 किलोमीटर, अंबिकापुर-वाड्रफनगर-बम्हनी-रेनकूट-बनारस मार्ग, लंबाई 110.60 किलोमीटर, पंडरिया-बजाग-गाड़ासरई मार्ग, लंबाई 37 किलोमीटर को भारत माला परियोजना के तहत स्वीकृति प्रदान करने का आग्रह किया, जिस पर केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने इन सड़कों को भारत माला परियोजना-2 में शामिल करने का आश्वासन दिया. भूपेश बघेल ने राष्ट्रीय राजमार्गों पर जन सामान्य को सुगम एवं सुरक्षित आवागमन सुविधा उपलब्ध कराने की दृष्टि से राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 30, रायपुर से धमतरी फोरलेन का निर्माण कार्य के तहत राज्य सरकार द्वारा पूर्ण किए गए.

रायपुर से शदाणी दरबार तक 10 किलोमीटर हिस्से में सर्विस रोड की स्वीकृति प्रदान करने, रायपुर शहर में टाटीबंध चौक से मैगनेटो मॉल के बीच फ्लाई ओवर निर्माण, राष्ट्रीय राजमार्ग 30 में ग्राम धनेली से विधानसभा, बलौदाबाजार होते हुए सारंगढ़ की ओर जाने वाले मार्ग को एन.एच.53 से जोड़ने तथा विधानसभा से जोरा (एन.एच.53) के इस भाग को राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित करने का आग्रह करते हुए कहा कि इससे बिलासपुर से नवा रायपुर, महासमुंद, संबलपुर की ओर जाने के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग उपलब्ध हो जाएगा.

इन सड़कों को राजमार्ग घोषित करने की मांग
मुख्यमंत्री ने राम वन गमन पथ लंबाई 1000 किलोमीटर को राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित करने, चंद्रपुर-खरसिया-पत्थलगांव मार्ग को राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित करने, कुम्हारी-भिलाई बायपास लंबाई 23 किलोमीटर को राष्ट्रीय राजमार्ग, बरदुला-नगरी-कांकेर-संबलपुर-मानपुर मार्ग, लंबाई 195 किलोमीटर को राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित करने का आग्रह किया. मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ में राष्ट्रीय राजमार्गों की कुल लंबाई 3525 किलोमीटर है. इसमें से 2447 किलोमीटर का लोक निर्माण विभाग तथा 1078 किलोमीटर का एन.एच.ए.आई द्वारा संधारण एवं निर्माण किया जा रहा है.

सीएम ने चांपा-उरगा-कोरबा मार्ग निर्माण, पाली-कटघोरा मार्ग निर्माण, मुंगेली-पोण्डी मार्ग, झलमला-शेरपार-मानपुर मार्ग, अभनपुर-पोण्ड मार्ग, मदांगमुड़ा से देवभोग मार्ग के निर्माण की स्वीकृति देने तथा भारत माला एवं इकोनोमिक कॉरीडोर योजना के अंतर्गत रायपुर-विशाखापटनम मार्ग, बिलासपुर-उरगा-पत्थलगांव मार्ग, चांपा-कोरबा मार्ग को शामिल करने पर केन्द्रीय मंत्री गडकरी को धन्यवाद दिया.

विकास की दौड़ में आगे है छत्तीसगढ़
केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ लगातार विकास की दौड़ में आगे बढ़ रहा है. उन्होंने मुख्यमंत्री बघेल के आग्रह पर छत्तीसगढ़ में आरओबी निर्माण के लिए 300 करोड़ रुपये देने की घोषणा करते हुए कहा कि इसके अतिरिक्त आरओबी के लिए वर्ष 2022-23 में छत्तीसगढ़ को 400 करोड़ रुपये देंगे. इस तरह छत्तीसगढ़ में आरओबी के लिए कुल 700 करोड़ रुपये मिलेंगे. उन्होंने बताया कि आरंग पचेरा के पास 200 एकड़ में लॉजिस्टिक पार्क विकसित करने की योजना बनाई गई है. गडकरी ने कहा कि छत्तीसगढ़ में आयरन और सीमेंट के 118 उद्योग हैं. लॉजिस्टिक सुविधा विकसित होने से उद्योगों का विकास होगा और रोजगार के अवसर बढ़ेंगे.

Tags: Chhattisagrh news, Nitin gadkari

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर