छत्तीसगढ़ : 15 करोड़ पौधे रोपे गए, लेकिन इतनी जगह आई कहां से! कितने पौधे बचे हैं?

छत्तीसगढ़ में पौधारोपण को लेकर आंकड़े चर्चा में आए.

छत्तीसगढ़ में पौधारोपण को लेकर आंकड़े चर्चा में आए.

Chhattisgarh News : राज्य सरकार के विभिन्न विभागों के तहत किए गए पौधारोपण के आंकड़े सवाल खड़े कर रहे हैं. दूसरी तरफ, यह खबर भी है कि इस साल 2.27 करोड़ पौधे राज्य भर में घरों तक पहुंचाए जाएंगे.

  • Share this:

रायपुर. पेड़ लगाने के अपने नियम होते हैं. पौधे रोपने की जगह, पनपने की जगह और उन्होंने पालने के संबंध में सरकारी नियम तो हैं, तो लेकिन सरकारों ने इन नियमों को खुद ही नहीं पढ़ा, आंकड़े ऐसी गवाही देते हैं. छत्तीसगढ़ मे बीते 18 वर्षों 15 करोड़ से ज़्यादा पौधे लगा दिए जाने का आंकड़ा बताया गया है, लेकिन जानकार तो कह रहे हैं कि जितने पौधे लगाए गए या हर वर्ष लगाए जा रहे हैं, उतनी रिक्त जगह है ही नहीं. अब इस तरह के आरोप लग रहे हैं कि विभागों ने नियमों को अपने ही अंदाज़ में बदलकर पौधे लगाने के आंकड़े बता दिए, या तो पौधे लगाए ही नहीं गए क्योंकि उनमें से जीवित कितने हैं, यह भी बड़ा सवाल है.

नियमों के मुताबिक दो पौधों के बीच इतनी दूरी ज़रूरी है कि दोनों के तने या शाखाएं आपस में न टकराएं, यानी दोनों पौधे इतनी दूर लगें कि जीवित रह सकें. लेकिन इस नियम के मुताबिक 15 करोड़ पौधे लगाए जाने का आंकड़ा कोई पचा नहीं पा रहा है. बीते 18 वर्षों में विभिन्न विभागों के तहत ज़िला, ग्राम पंचायतों, स्कूल कॉलेज परिसरों और शासकीय दफ्तरों में 15 करोड़ से ज़्यादा पौधे रोपे जाने के दावे हैं, लेकिन अब गिनती के पौधे ही जीवित बचे हैं. यह पर्यावरण प्रेम की सच्चाई है. बता दें कि छत्तीसगढ़ के वन समद्ध हैं, मगर बढ़ते औद्योगिकीकरण और वन पर इंसानों के दखल ने वन क्षेत्र को घटा दिया है. अब प्रदेश में 44 फीसदी वन ही शेष हैं.

Chhattisgarh news hindi, Chhattisgarh samachar, Chhattisgarh forests, छत्तीसगढ़ न्यूज़, छत्तीसगढ़ समाचार, छत्तीसगढ़ जंगल
छत्तीसगढ़ की नर्सरियों में करीब 4 करोड़ पौधे उपलब्ध हैं.

घर पहुंच पौधा वितरण कार्यक्रम
इस साल वन विभाग 25 जून से घर पहुंच पौधा वितरण कार्यक्रम शुरू करेगा. गौरतलब है कि राज्य में विभाग द्वारा इस वर्ष 2 करोड़ 27 लाख पौधों के वितरण का लक्ष्य रखा गया है. इसके लिए वर्तमान में समस्त 275 विभागीय नर्सरियों में 284 प्रजातियों के 3 करोड़ 89 लाख पौधे उपलब्ध हैं. राज्य में पौध वितरण कार्यक्रम के सुचारू संचालन के लिए वन विभाग के प्रमुख सचिव मनोज कुमार पिंगुआ और प्रधान मुख्य वन संरक्षक राकेश चतुर्वेदी ने सभी वन मंडलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं. 2 करोड़ से ज़्यादा पौधे कई योजनाओं के अंतर्गत बांटे जाएंगे. साथ ही, राज्य के हर ज़िले में पौधा वितरण की संख्या भी तय कर दी गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज