छत्तीसगढ़ सरकार ने इस खास वर्ग को दिया आरक्षण का गिफ्ट, विपक्ष ने बताया राजनीतिक लाभ का खेल

Awadhesh Mishra | News18 Chhattisgarh
Updated: August 17, 2019, 10:38 AM IST
छत्तीसगढ़ सरकार ने इस खास वर्ग को दिया आरक्षण का गिफ्ट, विपक्ष ने बताया राजनीतिक लाभ का खेल
सियासी गलियारों में अब आरक्षण बढ़ाने के पीछे के गुना-गणित पर चर्चाएं तेज हो गई है.

छत्तीसगढ़ में आरक्षण बढ़ाकर 82 फीसदी कर दी गई है. इसके बाद भी बचे हुए 18 फीसदी में पूर्व सैनिक, तृतीय लिंग, महिला और दिव्यांगों का आरक्षण शामिल है.

  • Share this:
स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) के मौके पर छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने राज्य के अनुसूचित जाति वर्ग (Scheduled caste) को 13 फीसदी और अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) को 27 फीसदी आरक्षण (Reservation) देने की घोषणा की है. कहा जा रहा है कि सरकार ने आरक्षण की सीमा बढ़ा कर बड़ा सियासी दांव खेलने की कोशिश की है. ओबीसी और एससी वर्गों का आरक्षण बढ़ाकर नया कीर्तिमान रचा गया है. यहां इस बात पर भी गौर किया जाना चाहिए कि सूबे में निकाय चुनाव भी होने है. लोकसभा चुनाव (Lok sabha election) में लगे करारे झटके को देखते हुए कांग्रेस(Congress)स्थानीय चुनाव में कोई रिस्क लेना के मूड में नहीं है. आरक्षण की घोषणा कर कांग्रेस अपने पैर मजबूत करने की भी कोशिश कर रही है. सियासी गलियारों में अब आरक्षण बढ़ाने के पीछे के गुना-गणित पर चर्चाएं तेज हो गई है.

क्या है छत्तीसगढ़ में आरक्षण की स्थिति

छत्तीसगढ़ सरकार ने ओबीसी (OBC) वर्ग के आरक्षण को 14 से बढ़ाकर 27 फीसदी कर दिया. तो वहीं एससी वर्ग के आरक्षण में भी एक फीसदी की बढ़ोत्तरी करते हुए 12 से 13 फीसदी कर दी है. इस फैसले के बाद अब छत्तीसगढ़ में कुल आरक्षण 68 से बढ़कर 82 फीसदी हो गई है. इसमें गरीब सवर्णों को दिए जाने वाला 10 फीसदी आरक्षण शामिल है.

आरक्षण का प्रतिशत

 वर्ग                                                   पूर्व में                     वर्तमान में

एसटी वर्ग को                               32 फीसदी              32 फीसदी

एससी वर्ग को                              12 फीसदी               13 फीसदी
Loading...

ओबीसी वर्ग को                           14 फीसदी               27 फीसदी

गरीब सवर्णों को                          10 फीसदी               10 फीसदी

 

विपक्ष भी समर्थन में!

छत्तीसगढ़ में आरक्षण बढ़ाए जाने के पीछे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का तर्क है कि अन्य कई राज्यों में ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण दिया जा रहा है और यहां भी बहुप्रतिक्षित मांग थी, जिसे सरकार ने पूरा कर उन्हें उनका हक दिया है. तो वहीं राजनीतिक तौर पर यह मामला इतना ज्वलनशील है कि विपक्ष इसमें हाथ डालने और विरोध करने के बजाय इसका समर्थन कर रही है. इस मसले पर पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह (Dr. Raman Singh) का कहना है कि पहले भी आरक्षण 58 फीसदी किया गया था. ओबीसी की मांग जायस थी. उनकी मांग पूरा करना ही था.

chhattisgarh, raipur, cm bhupesh bgahel,  reservation in chhattisgarh, chhattisgarh reservation details, what is percentage of reservation in chhattisgarh, OBC reservation, OBC reservation in chhattisgarh, ST,SC,OBC reservation in chhattisgarh, छत्तीसगढ़, रायपुर, आरक्षण, छत्तीसगढ़ में आरक्षण, छत्तीसगढ़ में कितना है आरक्षण, छत्तीसगढ़ में आरक्षण का प्रतिशत, एसटी,एससी,ओबीसी आरक्षण, बीजेपी, कांग्रेस
ओबीसी वर्ग की मांग को पूरा करना जायज फैसला: डॉ़. रमन सिंह


 

OBC पर कांग्रेस का फोकस:

सरकार ने प्रमुख रूप से ओबीसी वर्ग के आरक्षण में 13 फीसदी की बढ़ोत्तरी कर दी है. विपक्ष ने भी राजनीतिक रूप से इसका समर्थन तो कर दिया, मगर बात राजनीतिक हलचल की करें तो आकड़े देखकर स्पष्ट होता है कि जहां एक ओर ओबीसी वर्ग से कांग्रेस के 18 विधायक है तो वहीं बीजेपी के महज 04. अब एक नजर वर्गवार राजनीतिक दले के विधायकों की संख्या पर.

 

वर्गवार विधायक की संख्या

वर्ग                                कांग्रेस           बीजेपी       जोगी-बीएसपी

एसटी वर्ग से                      27                  02                   02

एससी वर्ग से                     07                  02                   01

ओबीसी वर्ग से                  18                  04                   01

सामान्य वर्ग से                 11                  06                  03

अल्पसंख्यक वर्ग से         04                  00                  00

 

---------------------------------------------------------------------------

कुल                                 67                     14                  07

रिक्त सीट-02 (दंतेवाड़ा और चित्रकोट)

 

chhattisgarh, raipur, cm bhupesh bgahel,  reservation in chhattisgarh, chhattisgarh reservation details, what is percentage of reservation in chhattisgarh, OBC reservation, OBC reservation in chhattisgarh, ST,SC,OBC reservation in chhattisgarh, छत्तीसगढ़, रायपुर, आरक्षण, छत्तीसगढ़ में आरक्षण, छत्तीसगढ़ में कितना है आरक्षण, छत्तीसगढ़ में आरक्षण का प्रतिशत, एसटी,एससी,ओबीसी आरक्षण, बीजेपी, कांग्रेस  आजादी, स्वतंत्रता दिवस, छत्तीसगढ़, सरकार का तोहफा, bjp, Dr Raman Singh
विपक्ष का कहना है कि आऱक्षण देकर कांग्रेस राजनीतिक फायदा लेना चाहती है.


कुल 82 फीसदी आरक्षण के साथ आरक्षण देने के मामले में छत्तीसगढ़ देश का अव्वल राज्य हो गया है. सरकार के इस फैसले को सत्ताधारी दल सामाजिक फैसला तो विपक्ष राजनीति लाभ के लिए लिया गया निर्णय करार दे रही है.  एक तरफ देशभर में आरक्षण की आग सुलग रही है तो वहीं दूसरी तरफ छत्तीसगढ़ में आरक्षण बढ़ाकर 82 फीसदी कर दी गई है. इसके बाद भी बचे हुए 18 फीसदी में पूर्व सैनिक, तृतीय लिंग, महिला और दिव्यांगों का आरक्षण शामिल है.

ये भी पढ़ें:

पूर्व पीएम वाजपेयी को CM बघेल ने दी श्रद्धांजलि, कहा- आज याद आती है उनकी ये खासियत 

सरकार की लापरवाही, स्मार्ट सिटी रिव्यू में रायपुर को लग सकता है ये बड़ा झटका  

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 17, 2019, 10:11 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...