लाइव टीवी

Chitrakoote Bypoll Result: इस सीट पर नतीजे तय करेंगे बस्तर में BJP का भविष्य!

निलेश त्रिपाठी | News18 Chhattisgarh
Updated: October 24, 2019, 10:04 AM IST
Chitrakoote Bypoll Result: इस सीट पर नतीजे तय करेंगे बस्तर में BJP का भविष्य!
चित्रकोट उपचुनाव में बीजेपी को हार मिलती है तो प्रदेश का बस्तर संभाग बीजेपी मु​क्त हो जाएगा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

चित्रकोट उपचुनाव परिणाम (Chitrakote Bypoll Result) बस्तर (Bastar) में बीजेपी (BJP) के भविष्य के लिए अहम माना जा रहा है.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ विधानसभा (Chhattisgarh Assembly) के चित्रकोट (Chitrakote) सीट पर हुए उपचुनाव (Bypoll) में मतगणना बुधवार को की जा रही है. चित्रकोट उपचुनाव परिणाम (Chitrakote Bypoll Result) बस्तर (Bastar) में बीजेपी (BJP) के भविष्य के लिए अहम माना जा रहा है. क्योंकि यदि इस सीट पर बीजेपी (BJP) को हार मिलती है तो प्रदेश का ये बड़ा संभाग बीजेपी मु​क्त हो जाएगा. क्योंकि इस संभाग की 12 में से 11 सीटें पहले ही कांग्रेस जीत चुकी है. यदि इस सीट पर बीजेपी को जीत मिलेगी तो उसका असर आगामी निकाय चुनाव में भी देखने को मिल सकता है.

आदिवासी (Tribals) बाहुल्य बस्तर (Bastar) संभाग में विधानसभा (Assembly) की कुल 12 सीटों में से 11 सीटें एसटी आरक्षित है. विधानसभा चुनाव 2018 (Assembly Election 2018) में इस सभांग की 11 सीटें कांग्रेस ने जीती थीं. इस संभाग में दंतेवाड़ा (Dantewada) सीट पर भीमा मंडावी ने जीत दर्ज कर विधानसभा में बस्तर बीजेपी (Bastar BJP) की उपस्थिति बरकरार रखी थी, लेकिन लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) 2019 में पहले चरण की वोटिंग से ऐन पहले नक्सलियों (Nxaalites) ने हमला कर विधायक भीमा मंडावी (MLA Bheema Mandavi) की हत्या कर दी थी. इसके बाद से विधानसभा में बीजेपी मुक्त बस्तर हो गया है.

chhattisgarh news,Chitrakoot Bypoll, Congress's Rajan Venjam leads in initial trends, Chhattisgarh, Result, Bastar, Assembly, छत्तीसगढ़ विधानसभा, चित्रकोट उपचुनाव, बीजेपी, कांग्रेस, चुनाव परिणाम, उपचुनाव में नतीजे, रायपुर, bjp. Congress
आदिवासी बाहुल्य बस्तर संभाग में विधानसभा की कुल 12 सीटों में से 11 सीटें एसटी आरक्षित है. (Demo PIc)


उपचुनाव में गंवा दी दंतेवाड़ा सीट

बता दें कि विधायक भीमा मंडावी की हत्या के बाद खाली हुई दंतेवाड़ा सीट पर बीते सितंबर महीने में ही उपचुनाव हुए. इस उपचुनाव में बीजेपी ने अपनी दंतेवाड़ा सीट गंवा दी. कांग्रेस की प्रत्याशी देवती कर्मा ने बीजेपी प्रत्याशी ओजस्वी मंडावी को 11 हजार से अधिक वोटों से हराया. इसके बाद बस्तर में बीजेपी की एकमात्र उम्मीद चित्रकोट सीट बची है, जिसमें शुरुआती रूझानों में कांग्रेस के प्रत्याशी आगे हैं. गौरतलब है कि चित्रकोट सीट पर विधानसभा चुनाव 2018 में कांग्रेस के दीपक बैज को जीत मिली थी. लोकसभा चुनाव 2019 में बस्तर सीट से दीपक बैज के सांसद निर्वाचित होने के बाद से ये सीट खाली है.

Former CM Dr. Raman Singh, Election commission, Chitrakoote Bypoll Result, future of BJP in Bastar, बस्तर में BJP का भविष्य, chhattisgarh news,Chitrakote Bypoll, Congress's Rajan Venjam leads in initial trends, Chhattisgarh, Result, Bastar, Assembly, छत्तीसगढ़ विधानसभा, चित्रकोट उपचुनाव, बीजेपी, कांग्रेस, चुनाव परिणाम, उपचुनाव में नतीजे, रायपुर, bjp. Congress
पूर्व सीएम और बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह ने चित्रकोट में जीत का दावा किया है.


जीत के अपने अपने दावे
Loading...

चित्रकोट उपचुनाव में बीते 21 अक्टूबर को हुई वोटिंग में 78.12 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है. वोटिंग के बाद से ही राजनीतिक दलों के अपने अपने दावे हैं. पूर्व सीएम और बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह का कहना है कि कांग्रेस ने उनकी दंतेवाड़ा सीट छीनी है. बीजेपी अब कांग्रेस की चित्रकोट सीट छिनेगी. चित्रकोट में बीजेपी की जीत पक्की है. जबकि कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास तिवारी का कहना है कि चित्रकोट विधानसभा क्षेत्र के ही लोहांडीगुड़ा में सरकार में आते ही कांग्रेस ने आदिवासियों की एक उद्योग के लिए ली गई जमीन वापस कर दी. इसके अलावा 9 महीने के ही कार्यकाल में कांग्रेस सरकार ने आदिवासी, गरीब व ग्रामीणों के लिए जो काम किए हैं, उसका असर चित्रकोट उपचुनाव में दिखा है. उनकी पार्टी की जीत पक्की है.

निकाय चुनाव पर भी होगा असर
छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ पत्रकार अनिल द्विवेदी का कहना है कि चित्रकोट उपचुनाव से बस्तर में बीजेपी का भविष्य तय होगा. ​क्योंकि इस सीट पर परिणाम का असर आगामी निकाय चुनाव पर भी पड़ेगा. क्योंकि जीत हार का सीधा असर कार्यकर्ताओं के मनोबल पर पड़ता है. परिणाक का असर बीजेपी के बस्तर नेतृत्व पर भी होने वाला है. यदि जीत मिली तो नेतृत्व में बदलवा की संभावना कम है, लेकिन यदि हार मिलती है तो बीजेपी को अपने न सिर्फ बस्तर बल्कि प्रदेश स्तर पर नेतृत्व को लेकर विचार करना होगा.

ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ का वो गांव जहां 7 दिन पहले ही मनाई जाती है दिवाली, जानें वजह 

ATM में किसी से मदद ले रहे हैं तो सावधान! ऐसे निशाना बनाते हैं ठग  

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बस्तर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 24, 2019, 10:04 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...