लाइव टीवी

रमन सिंह के ट्वीट पर पूछे गए सवाल पर भड़के CM भूपेश बघेल, कहा- हैं कौन, क्या हैं वो!

Raghwendra Sahu | News18 Chhattisgarh
Updated: November 7, 2019, 12:40 PM IST
रमन सिंह के ट्वीट पर पूछे गए सवाल पर भड़के CM भूपेश बघेल, कहा- हैं कौन, क्या हैं वो!
सीएम भूपेश बघेल पर निशाना साधते हुए डॉ. रमन सिंह ने कहा कि शांत दिमाग से सोचें और किसानों का बोनस दें.

दरअसल, गुरुवार सुबह सीएम भूपेश बघेल राजधानी रायपुर (Raipur) से जगदलपुर (Jagdalpur) के लिए रवाना हुए. इससे पहले एयरपोर्ट पर उन्होंने पत्रकारों से कई मुद्दों पर चर्चा की. इस दौरान डॉ. रमन सिंह के ट्वीट (Tweet) पर एक सवाल पूछा गया जिस पर मुख्यमंत्री भड़क उठे.

  • Share this:
रायपुर. पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह (Former CM Dr. Raman Singh) के ट्वीट पर पूछे गए एक सवाल पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) भड़क गए. गुस्से में उन्होंने कहा कि हैं कौन वो? क्या हैं वो. रमन सिंह क्या विधायक दल के नेता हैं? भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष हैं? विधानसभा में पार्टी के सचेतक हैं? हैं कि कौन वो. सीएम बघेल ने कहा कि उनकी पार्टी वाले ही रमन सिंह को नहीं पूछ रहे हैं और वे भाजपा (BJP) में अनुशासन की बात करते थे. उनकी पार्टी में ही बिखराव की स्थिति है. मुख्यमंत्री ने कहा कि पार्टी में जान से मारने की धमकी दी जाती है. भाजपा का चाल चरित्र चेहरा उजागर हो गया है.  दरअसल, गुरुवार सुबह सीएम भूपेश बघेल राजधानी रायपुर (Raipur) से जगदलपुर (Jagdalpur) के लिए रवाना हुए. इससे पहले एयरपोर्ट पर उन्होंने पत्रकारों से कई मुद्दों पर चर्चा की. इस दौरान डॉ. रमन सिंह के ट्वीट (Tweet) पर एक सवाल पूछा गया जिस पर मुख्यमंत्री भड़क उठे.



ट्विटर की लड़ाई

बता दें कि सूबे में इन दिनों धान खरीदी को लेकर काफी विवाद हो रहा है. राज्य सरकार केंद्र पर समर्थन मूल्य में धान खरीदी और पूल से चावल लेने की बात कर रही है. इस मुद्दे पर बुधवार को सीएम भूपेश बघेल ने एक शायराना अंदाज में केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए एक ट्वीट किया था. तो वहीं मुख्यमंत्री के इस ट्वीट का जवाब देते हुए डॉ. रमन सिंह ने कहा था कि किसानों से झूठा वादा करते अपनी नाकामी छिपाने का काम सरकार कर रही है.

डॉ. रमन सिंह का ट्वीट



 

डॉ. रमन सिंह ने दिया जवाब

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर निशाना साधते हुए कहा कि एक बात तो वो भूल गए, जो उन्हें मैं याद दिलाना चाहता हूं कि दो साल का बोनस भी उन्हें देना है, जो शायद वो भूलते जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि आखिर गया कहां दो साल का बोनस?  सरकार ने वादा किया है. मैं कहता हूं शांत दिमाग से सोचें और दो साल का बोनस भी दें.

तो वहीं कांग्रेस के आंदोलन पर डॉ. रमन सिंह ने कहा कि राज्य और केंद्र सरकार की अपनी-अपनी नीति होती है. कार से जाएं, गाड़ी, प्लेन या कैसे भी आंदोलन या धरना प्रदर्शन करें, प्रदर्शन का अधिकार सबको है. लेकिन महत्वपूर्ण ये है कि धान खरीदी के लिए एक माह लेट हो चुके हैं. उन्होंने कहा कि राजनीति अपनी जगह चलती रहेगी. बीजेपी की मांग रही है और हम भी धरना देंगे कि धान खरीदी 15 नवंबर से ही हो. जनता का साथ लेकर हम प्रदर्शन पर उतरेंगे.

ये भी पढ़ें: 

धान खरीदी विवाद: कांग्रेस ने केंद्र को दी आर्थिक नाकेबंदी की धमकी, BJP ने किया पलटवार 

भूपेश सरकार के प्रमोशन में आरक्षण के फैसले को चुनौती, हाईकोर्ट में पहली याचिका दायर 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 7, 2019, 12:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...