लाइव टीवी

CM भूपेश बघेल का शायराना ट्वीट- 'गर जंग लाज़मी है तो फिर जंग ही सही'

Surendra Singh | News18 Chhattisgarh
Updated: November 6, 2019, 12:44 PM IST
CM भूपेश बघेल का शायराना ट्वीट- 'गर जंग लाज़मी है तो फिर जंग ही सही'
सीएम भूपेश बघेल ने शायराना अंदाज में ट्वीट किया है.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में 25 सौ रुपये प्रति क्विटंल की दर से धान (Paddy) खरीदने को लेकर केन्द्र और राज्य सरकार (State Government) के बीच हो रही रार मची है.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में 25 सौ रुपये प्रति क्विटंल की दर से धान (Paddy) खरीदने को लेकर केन्द्र और राज्य सरकार (State Government) के बीच हो रही रार मची है. केन्द्र सरकार ने अधिक दर पर सेन्ट्रल पूल में धान खरीदने से इनकार कर दिया है. राज्य सरकार इसको लेकर केन्द्र सरकार से पत्राचार कर रही है. साथ ही कांग्रेस (Congress) और बीजेपी (BJP) के नेता एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रहे हैं. इसी बीच सीएम भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने शायराना अंदाज में ट्वीट किया है.

सीएम भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने शायराना अंदाज में ट्वीट कर केन्द्र सरकार पर निशाना साधा. सीएम बघेल ने साहिर लुधानवी की रचना हम अमन चाहते हैं मगर ज़ुल्म के ख़िलाफ़, गर जंग लाज़मी है तो फिर जंग ही सही पोस्ट की. इसके बाद प्रदेश की राजनीति में बयानबाजियों का दौर और तेज होने की संभावना है.

Loading...



बीजेपी ने लगाए आरोप
बता दें कि धान के समर्थन मूल्य को लेकर बीजेपी और कांग्रेस के नेता एक दूसरे पर बयानबाजी कर रहे हैं. राज्य की कांग्रेस सरकार किसानों से हस्ताक्षर कराकर पीएम को सौंपने की तैयारी कर रही है. साथ ही केन्द्र सरकार पर किसानों की हितैषी नहीं होने का आरोप लगाया है. वहीं केन्द्रीय राज्यमंत्री व सरगुजा सांसद रेणुका सिंह ने कहा कि कांग्रेस सरकार को राज्य का बजट ध्यान में रखकर समर्थन मूल्य तय करना था, केन्द्र सरकार की आड़ लेकर बहाने बाजी नहीं की जा सकती है.

ये भी पढ़ें: मुंगेली में मंडी पहुंच रहे किसानों की बढ़ी परेशानी, लगाए ये आरोप 

संगठन चुनाव के बीच BJP में मचा घमासान, बड़े नेताओं की हो रही खुलेआम शिकायत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 6, 2019, 12:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...