लाइव टीवी

CM भूपेश बघेल ने PM नरेंद्र मोदी को लिखा पत्र, मजदूरों की मदद करने दिया ये सुझाव
Raipur News in Hindi

Ashraf Kazmi | News18 Chhattisgarh
Updated: April 1, 2020, 4:15 PM IST
CM भूपेश बघेल ने PM नरेंद्र मोदी को लिखा पत्र, मजदूरों की मदद करने दिया ये सुझाव
सीएम भूपेश बघेल ने अपने खत में पीएम मोदी को कई सुझाव दिए हैं. (Demo pic)

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) को एक पत्र लिखा है.

  • Share this:
दिल्ली. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) को पत्र लिखकर कहा है कि 26 मार्च को केन्द्रीय वित्तमंत्री द्वारा आमजन को सहायता पहुंचाने के लिए की गई घोषणाएं सराहनीय है, जिसमें समाज के बड़े तबके को राहत मिली है. सीएम बघेल का कहना है कि केन्द्र सरकार द्वारा की गई सकारात्मक पहल को निरंतर जारी रखने की आवश्यकता है, क्योकि अभी भी समाज का एक बड़ा वर्ग उन घोषणाओं से लाभ प्राप्त करने में वंचित है. खास तौर पर मनरेगा योजना के तहत आने वाले भूमिहीन मजदूर तथा असंगठित क्षेत्र के कामगार, वर्तमान परिस्थितियों में इनका जीवन-यापन दूभर होना तय है.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने खत में कहा है कि केन्द्रीय वित्त मंत्री द्वारा की गई घोषणाओं के संदर्भ में उनके अतिरिक्त मेरे कुछ सुझाव इस प्रकार है. मनरेगा एवं असंगठित क्षेत्र के कामगारों को आगामी तीन माह तक प्रतिमाह एक हजार की राशि उनके खातों में दिए जाए. सभी जन-धन खाता धारकों को 750 रूपए प्रतिमाह की राशि आगामी 3 महीने तक उनके खातों में दिए जाए.  इसमें महिला, पुरूष, जीरो बैलेन्स अथवा अप्रचलित खाते सभी शामिल हो.

सीएम बघेल ने दिया ये सुझाव



सीएम बघेल ने इसके साथ ही संगठित क्षेत्र के सभी कामगारों जिन्हें 15 हजार प्रतिमाह से कम राशि प्राप्त होती हो, उनकी भविष्य निधि की संपूर्ण राशि अगले तीन माह तक केन्द सरकार द्वारा वहन करने और उसमें किसी भी तरह की पूर्व शर्त नहीं रखने का अनुरोध किया है. भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री से कहा है कि यदि उपरोक्त सुझाव के अनुरूप स्वीकृति दी जाती है तभी हम कोरोना के खिलाफ छेड़ी गई जंग जीतने में सफल हो सकते है. अन्यथा लाखों परिवारों के लिए जीवन का संकट उत्पन्न होना निश्चित है. मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से विनम्र अनुरोध किया है कि इन मांगों की स्वीकृति शीघ्र अतिशीघ्र प्रदान करने का कष्ट करें ताकि इन वर्गों को बड़ी राहत मिल सके.



मुख्यमंत्री ने अपने पत्र में लिखा है कि छत्तीसगढ़ में 21 मार्च से कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन किया गया है, जिससे राज्य में कोरोना पीड़ितों की संख्या सीमित रखने में सहायता मिली है. एम्स रायपुर का अमला तथा राज्य शासन के सभी अधिकारी आपदा के इस समय में आम जनता को सभी आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए पूरी मुस्तैदी के साथ मोर्चा संभाले हुए है.

ये भी पढ़ें: 
COVID-19: रेलवे ने 55 कोच को आइसोलेशन वार्ड में किया तब्दील, रहेगी ये सभी सुविधा 

कवर्धा: घर के बाहर खेल रहा था 8 साल का बच्चा, फिर हुआ ये हादसा
First published: April 1, 2020, 4:04 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading