लाइव टीवी

CM भूपेश बघेल ने केंद्र सरकार को लिखा पत्र, 4140 करोड़ खनिज रॉयल्टी देने की मांगी

Mamta Lanjewar | News18 Chhattisgarh
Updated: January 23, 2020, 6:04 PM IST
CM भूपेश बघेल ने केंद्र सरकार को लिखा पत्र, 4140 करोड़ खनिज रॉयल्टी देने की मांगी
सीएम भूपेश बघेल ने केंद्र सरकार को पत्र लिखा है. (File Photo)

सीएम भूपेश बघेल ने केंद्र सरकार से जमा राशि को जल्द उपलब्ध कराने का आग्रह किया है.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने केंद्र सरकार को एक पत्र (Letter) लिखा है. इस खत में सीएम बघेल ने केंद्र सरकार से 4140 करोड़ रुपए की खनिज राॅयल्टी देने की मांग की है. मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ में संचालित कोयला खदानों (Coal Mines) से निकाले गए कोयले की 4140.21 करोड़ रुपए एडिशनल लेवी की राशि जल्द उपलब्ध कराने की मांग केंद्र सरकार से की है. जानकारी के मुताबिक, सीएम भूपेश बघेल ने केन्द्रीय कोयला खान एवं संसदीय कार्यमंत्री प्रहलाद जोशी को एक पत्र लिखा है. इस खत में सीएम बघेल ने भारतीय संविधान में उल्लेखित प्रावधानों, खनिज अधिनियम और सुप्रीम कोर्ट का हवाला देते हुए केंद्र सरकार से एडिशनल लेव्ही की राशि, जो लगभग 4 हजार 140.61 करोड़ रुपए है देने की मांग की है.

सीएम भूपेश बघेल ने कही ये बात

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने पत्र में कहा है कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा छत्तीसगढ़ में संचालित कोल ब्लॉक से निकाले गए और आगे निकाले जाने वाले कोयले की एडिशनल राॅयल्टी की राशि केंद्र को राज्य सरकार को जल्द देना चाहिए. सीएम बघेल ने अपने पत्र में लिखा है कि पांच सालों से छत्तीसगढ़ सरकार केंद्र को रॉयल्टी देने पत्र लिखते आ रही है.

जमा है इतना कोयला

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने खत में लिखा है कि छत्तीसगढ़ से आठ कोल ब्लॉक द्वारा 295 रुपए प्रति मीट्रिक टन की दर से एडिशनल लेव्ही की राशि भारत सरकार के कोल मंत्रालय के पास जमा की गई है. सीएम भूपेश बघेल ने केंद्र सरकार से जमा राशि को जल्द उपलब्ध कराने का आग्रह किया है.

 

ये भी पढ़ें: गला घोंटकर पत्नी और 3 साल की बेटी को मारा, फिर फांसी पर लटक गया पति 

सोशल मीडिया में अजीत जोगी का पोस्टर वायरल, बताया सरपंच पद उम्मीदवार 

JCCJ सुप्रीमो अजीत जोगी का ये पोस्टर वायरल, बताए गए सरपंच पद के प्रत्याशी  

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 23, 2020, 6:02 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर