लाइव टीवी

संगठन चुनाव के बीच बीजेपी में मचा घमासान, बड़े नेताओं की खुलेआम शिकायत कर रहे कार्यकर्ता

Mamta Lanjewar | News18 Chhattisgarh
Updated: November 5, 2019, 5:16 PM IST
संगठन चुनाव के बीच बीजेपी में मचा घमासान, बड़े नेताओं की खुलेआम शिकायत कर रहे कार्यकर्ता
दबी जुबान ये भी आरोप लगाया जा रहा है कि आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों को भी मंडल अध्यक्ष चुन लिया गया है. FIle Photo)

कहा जा रहा है कि पार्टी में स्थिति ये हो गई है कि अंदरूनी लड़ाई अब सड़क पर आ गई है. मंडल अध्यक्षों के चुनाव के साथ ही बीजेपी की जमकर फजीहत हो रही है.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) बीजेपी की मुश्किलें कम होने का नाम ही नहीं ले रही हैं. बीजेपी (BJP) के बड़े दिग्ग्जों के बीच गुटबाजी तो कम होने का नाम नहीं ले रही है, वहीं अब मंडल स्तर पर भी जमकर बवाल मचा हुआ है. साथ ही कार्यकर्ताओं के रडार पर अब पार्टी के बड़े नेता आ गए हैं. बीजेपी में संगठन के चुनाव के साथ ही एक बार फिर से घमासान मच गया है. कहा जा रहा है कि पार्टी में स्थिति ये हो गई है कि अंदरूनी लड़ाई अब सड़क पर आ गई है. मंडल अध्यक्षों के चुनाव के साथ ही बीजेपी की जमकर फजीहत हो रही है.

अध्यक्षों के चुनाव के बाद अब दबे जुबान शिकायत करने वाले कार्यकर्ता भी खुलेआम बड़े नेताओं की शिकायत करने हैं. दरअसल, प्रदेश भर में जो मंडल अध्यक्ष चुने गए है उनमें से ज्यादातर के खिलाफ पार्टी कार्यकर्ताओं में खुलकर नाराजगी सामने आ रही है. शिकायत यही है कि बड़े नेताओं ने अपने चहेतों को मंडल अध्यक्ष बना दिया है. वहीं दबी जुबान ये भी आरोप लगाया जा रहा है कि आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों को भी मंडल अध्यक्ष चुन लिया गया है.

बीजेपी का दावा

वहीं बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह (Former CM Dr. Raman Singh) का दावा है कि 90 प्रतिशत से ऊपर स्थानों में आम सहमति से मंडल अध्यक्ष चुने गए हैं. यहां इलेक्शन की भी नौबत नहीं आई है. उन्होंने कहा कि बहुत ही फ्रेंडली वातावरण में तीन बार बैठकर कर नामों को तय किया गया है. कही जरूरत पड़ रही है तो लोगों की राय भी ली जा रही है.

कांग्रेस का आरोप

मंडल अध्यक्षों की नियुक्ति में हो रही राजनीति को लेकर कांग्रेस ने विपक्ष पर हमला बोल दिया है. कांग्रेस प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला का कहना है कि ये बीजेपी के बड़े नेताओं की नीयत ही है. वो अपने कार्यकर्ताओं की उपेक्षा करते है. इसका खामियाजा बीजेपी को निकाय चुनाव में भुगतना पड़े सकता है. पार्टी को कार्यकर्ता की नाराजगी भी झेलनी पड़ सकती है.

 
Loading...

ये भी पढ़ें: 

सुरक्षा बल के साथ मुठभेड़ में दो इनामी नक्सली ढेर, हथियार भी बरामद 

CM भूपेश बघेल की इस अहम बैठक में शामिल नहीं हुई बीजेपी, कहा- नहीं मिला आमंत्रण! 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 5, 2019, 5:13 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...