कांग्रेस डोंगरगढ़, भाजपा रायपुर में खोलेगी वादों का पिटारा, घोषणा पत्र में हो सकते हैं ये मुद्दे

छत्तीसगढ़ चुनाव में मतदाताओं को लुभाने के लिए कांग्रेस और भाजपा जल्द ही वादों का पिटारा खोलने की तैयारी कर रही है.

News18 Chhattisgarh
Updated: November 9, 2018, 12:11 PM IST
कांग्रेस डोंगरगढ़, भाजपा रायपुर में खोलेगी वादों का पिटारा, घोषणा पत्र में हो सकते हैं ये मुद्दे
प्रतीकात्मक तस्वीर
News18 Chhattisgarh
Updated: November 9, 2018, 12:11 PM IST
छत्तीसगढ़ चुनाव में मतदाताओं को लुभाने के लिए कांग्रेस और भाजपा जल्द ही वादों का पिटारा खोलने की तैयारी कर रही है. छत्तीसगढ़ के मैदानी इलाकों में पूर्ण शराबबंदी की मांग को कांग्रेस अपना चुनावी मुद्दा बना सकती है. कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी आज डोंगरगढ़ में आमसभा के दौरान घोषणा पत्र जारी कर सकते हैं. घोषणा पत्र में किसानों की कर्ज माफी और पूर्ण शराबबंदी को अपने घोषणा पत्र में प्रमुखता से शामिल कर सकती है. इसके अलावा बेरोजगारी के मुद्दे को कांग्रेस प्रमुख्यता से शामिल कर सकती है.

दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी 10 नवंबर को राजधानी रायपुर में घोषणा पत्र जारी कर सकती है. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह शनिवार को राजधानी रायपुर पहुंचेंगे. रायपुर के एक निजी होटल से भाजपा का घोषणा पत्र जारी करने की तैयारी की जा रही है. सूत्रों के मुताबिक​ घोषणा पत्र में भाजपा सभी वर्गों को साधने की कोशिश करेगी.

ये भी पढ़ें: समोसा बेचने वाले अजय शिवसेना की टिकट से कवर्धा सीट पर आजमा रहे किस्मत

इधर कांग्रेस नेता राजेन्द्र तिवारी ने न्यूज 18 से चर्चा में बताया कि पूर्ण शराबबंदी के मुद्दे को घोषणा पत्र में प्रमुखता से शामिल किया गया है. इसके अलावा जनता से मिले मुद्दों को भी इसमें प्रमुखता से स्थान दिया गया है. कांग्रेस के घोषणा पत्र में सरकारी स्कूलों के अपग्रेडेशन, किसनों को धान का समर्थन मूल्य 25 सौ रुपये प्रति क्विंटल देने, मुफ्त शिक्षा और मुफ्त इलाज का भी वादा कांग्रेस कर सकती है. आज शाम तक घोषणा पत्र में मुद्दों को लेकर स्थिति स्पष्ट हो जाएगी.

ये भी पढ़ें: Chhattisgarh Election Live: 'सरकार बनने के बाद पूर्ण शराबबंदी करेगी कांग्रेस' 

ये भी पढ़ें: कांग्रेस के चुनाव प्रचार दल पर नक्सली हमला, चंद घंटे में दूसरी बड़ी वारदात
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर