Home /News /chhattisgarh /

'कांग्रेस सरकार की शराब में नशा नहीं', BJP नेता को कॉल कर शिकायत कर रहे पियक्कड़, जानें मामला

'कांग्रेस सरकार की शराब में नशा नहीं', BJP नेता को कॉल कर शिकायत कर रहे पियक्कड़, जानें मामला

छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार द्वारा बेची जा रही शराब को लेकर बीजेपी नेता ने बड़ा आरोप लगाया है.

छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार द्वारा बेची जा रही शराब को लेकर बीजेपी नेता ने बड़ा आरोप लगाया है.

छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार पर बड़ा आरोप लगा है. छत्तीसगढ़ के पूर्व गृहमंत्री व बीजेपी के राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम ने दावा किया है कि आधी रात कई पियक्कड़ों के उनके पास कॉल आते हैं. वे कहते हैं सरकार द्वारा बेची जा रही शराब को कितना भी पी लो नशा ही नहीं होता है. इतना ही नहीं बीजेपी नेता ने आरोप लगाए कि सरकार पानी में रंग मिलाकर उसे शराब बताकर बेच दे रही है. राज्य में शराबबंदी के वायदे को लेकर भी बीजेपी नेता ने कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है.

अधिक पढ़ें ...

रायपुर. छत्तीसगढ़ में शराब के नाम पर सियासत कोई नई बात नहीं है, मगर इस बार शराब के नाम पर जो सियासत हो रही है उसकी वजह कुछ खास है. दरअसल बीजेपी के वरिष्ठ आदिवासी नेता राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम ने कहा है कि छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार के शराब में पिकअप नहीं है, लोग कितना भी पीते हैं उन्हें नशा नहीं होता. हर तरफ भ्रष्टाचार किया जा रहा है. बता दें कि बीते बुधवार को बीजेपी जिला कार्यालय में पत्रकार वार्ता को संबोधित करने के बाद रामविचार नेताम ने अलग से मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार की शराब पिकअप नहीं ले रही है.

बीजेपी रामविचार नेताम ने आरोप लगाया कि छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार द्वारा शराब के नाम पर पानी बेचा जा रहा है, केवल भ्रष्टाचार किया जा रहा है. शराब के अलग अलग ब्रांड बनाकर सिर्फ पानी बेचा जा रहा है. हमारे प्रदेश के पियक्कड़ भी इस सरकार से खुश नहीं हैं. जनप्रतिनिधि होने के नाते रात में भी कई फोन आते हैं और कहते है कि शराब कितनी भी पी लेते है फिर भी चढ़ती ही नहीं है.

भांग खाकर वादा किए थे क्या?

ना केवल शराब की गुणवत्ता पर सांसद रामविचार नेताम में सवाल उठाया है बल्कि कांग्रेस सरकार की शराबबंदी के वादों पर भी तंज कसा. आदिवासी क्षेत्रों में शराबबंदी के सवाल पर रामविचार नेताम ने कहा कि बीजेपी ने भी कभी शराबबंदी की मांग नहीं की कांग्रेस जब विपक्ष में थी तब वह मांग करती थी और अपने घोषणा पत्र में शराबबंदी का वादा किया था. अब जब शराबबंदी नहीं कर रही है तो क्या कांग्रेस भांग खाकर शराबबंदी का घोषणा की थी. बता दें कि हाल ही में छत्तीसगढ़ सरकार के आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने कहा था कि छत्तीसगढ़ में बीजेपी को छोड़कर और कोई भी शराबबंदी नहीं चाहता है. इसी बयान पर रामविचार नेताम ने पलटवार किया है.

Tags: New Liquor Policy, Raipur news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर