Assembly Banner 2021

COVID-19: छत्तीसगढ़ में फिर टूटा रिकॉर्ड, मिले 10652 नए मरीज, 24 घंटे में 72 की मौत

छत्तीसगढ़ में फिर 10 हजार से ज्यादा कोरोना केस.  (प्रतीकात्मक तस्वीर: Shutterstock)

छत्तीसगढ़ में फिर 10 हजार से ज्यादा कोरोना केस. (प्रतीकात्मक तस्वीर: Shutterstock)

Chhattisgarh COVID-19 Update: छत्तीसगढ़ में लगातार दूसरे दिन 10 हजार से ज्यादा मरीज मिले है. 24 घंटे में सूबे में रिकॉर्ड 10652 नए मरीज मिले हैं.

  • Share this:
रायपुर.  छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) से एक बार फिर कोरोना के परेशान करने वाले आंकड़े सामने आए हैं. लगातार दूसरे दिन सूबे में  दिन 10 हज़ार के पार कोरोना (COVID-19) मरीजों की संख्या हो गई है. ताजा आंकड़ों के मुताबिक,  बीते 24 घण्टे में रिकॉर्ड 10652 नए मरीज मिले है. जबकि संक्रमण की वजह से 72 लोगों की मौत हो गई है. राजधानी रायपुर (Raipur) में लगातार दूसरे दिन सबसे ज्यादा मरीज मिले है. तो वहीं दुर्ग (Durg) में भी 2 हजार से ज्यादा मरीज मिले हैं. नए केस मिलने के बाद अब सूबे में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 68125 हो गई है. कोरोना से अब तक 4563 लोगों की मौत हो गई है. अब तक 334543 मरीज कोरोना से रिकवर हो गए हैं.

रायपुर में 24 घण्टे में रिकॉर्ड 2330 मरीज मिले हैं तो वहीं दुर्ग में 2132 नए मरीज मिले है. इसी कड़ी में राजनांदगांव में 1047, बिलासपुर में 638, बलौदाबाजार में 601, महासमुंद में 517, बेमेतरा में 364, धमतरी में 363, कोरबा में 343, जांजगीर 287, कवर्धा में 286 और रायगढ़ में 240 नए मरीज मिले है.

रायपुर में लगा लॉकडाउन



छत्तीसगढ़ सरकार ने बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए अब कड़े कदम उठाने शुरू कर दिए हैं. इसी के चलते अब रायपुर में पूर्ण लॉकडाउन लगाने का फैसला किया गया है. जानकारी के अनुसार ये लॉकडाउन 9 अप्रैल से 19 अप्रैल तक लगाया जाएगा. रायपुर कलेक्टर ने इस संबंध में निर्देश भी जारी कर दिए हैं. पूर्ण लॉकडाउन के दौरान जिले की सीमाओं को भी सील कर दिया जाएगा.
ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़: रिहाई के बाद गृहमंत्री अमित शाह ने की कोबरा जवान राकेश्वर सिंह मनहास से बात, जाना हाल 

कलेक्टर की ओर से जारी निर्देशों के अनुसार लॉकडाउन के दौरान सभी शराब की दुकानें बंद रहेंगी, इसके साथ ही सभी शासकीय और आर्ध शासकीय कार्यालय, बैंक आदि भी बंद रहेंगे. हालांकि उद्योगों को ये छूट दी गई है कि यदि लेबर उद्योग परिसर के अंदर ही रहती है तो उसका संचालन किया जा सकता है. इसके साथ ही कोई भी धार्मिक स्‍थान नहीं खुलेंगे. नवरात्रों के दौरान भी मंदिरों को बंद ही रखा जाएगा. वहीं लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने पर प्रशासन की तरफ से कड़ी कार्रवाई करने की बात भी कही गई है
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज