लाइव टीवी

COVID-19: पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद सरकार अलर्ट, लिए ये बड़े फैसले
Raipur News in Hindi

Awadhesh Mishra | News18 Chhattisgarh
Updated: March 20, 2020, 8:37 AM IST
COVID-19: पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद सरकार अलर्ट, लिए ये बड़े फैसले
सीएम भूपेश बघेल ने बैठक में जरूरी दिशा निर्देश दिए.

मुख्यमंत्री ने स्थिति को भांपते हुए आनन-फानन में आपात बैठक बुलाकर स्वास्थ्य मंत्री और आला अधिकारियों से साथ बैठक कर आगामी रणनीति तय की.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की राजधानी रायपुर (Raipur) में कोरोना (Corona Virus) पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद गुरुवार को राज्य सरकार ने बचाव और जागरूकता को लेकर ताबड़तोड़ कई फैसले किए. इन फैसलों में प्रदेशभर के सभी नगरीय क्षेत्रों में धारा 144 लगाना, राजधानी के कुछ क्षेत्रों को लॉकडाउन करना, अंतर्राज्यीय बस सेवा स्थगित करना प्रमुख रूप से शामिल है. मुख्यमंत्री ने स्थिति को भांपते हुए आनन-फानन में आपात बैठक बुलाकर स्वास्थ्य मंत्री और आला अधिकारियों से साथ बैठक कर आगामी रणनीति तय की.


मुख्यमंत्री आवास में न सिर्फ बैठक हुई बल्कि सीएम भूपेश बघेल ने प्रदेश की जनता के नाम संदेश भी दिया, जिसमें सतर्कता सहित बचाव के कई बिन्दुओं पर मुख्यमंत्री ने विस्तार से चर्चा की. तमाम गहमागहमी के बीच समता कॉलोनी, चौबे कॉलोनी, गुढ़ियारी क्षेत्र को लॉकडाउन कर दिया गया. नगर निगम द्वारा क्षेत्र में विशेष सफाई अभियान का आगाज कर दिया गया. कोरोना के भय को कम करने सरकार ने एक ही दिन में भले ही आधा दर्जन निर्णय लिए हो. मगर तमाम निर्णयों से साथ एक-एक बड़ी चुनौती भी तैयार जिससे निपटने सच में बड़ी चुनौती है.





निर्देश बनाम चुनौती


निर्देश- प्रदेश के सभी नगरीय क्षेत्र में धारा 144 लगाया गया,



चुनौती- धारा 144 के परिपालन के लिए अमले की भारी कमी,


निर्देश- समता कालोनी, चौबे कालोनी और गुढ़ियारी लॉकडाउन घोषित,

चुनौती- वैकल्पिक व्यवस्था नहीं होने से लोग हो रहे हैं परेशान,


निर्देश- अंतर्राज्यीय बस परिवहन सेवा स्थगित किया गया,

चुनौती- अन्य साधनों से आने वाले की पहचान कैसे की जाए,


निर्देश- मॉल, चौपाटी, ठेले-फास्ट फूड ठेले को बंद करने का निर्णय,

चुनौती- बड़े होटल, रेस्टोरेंट को लेकर स्पष्ट निर्देश नहीं,


निर्देश- सीएम और मंत्रियों ने आमजनों से मिलने का कार्यक्रम स्थगित किया,

चुनौती- 26 मार्च से फिर कैसे होगा विधानसभा का सत्र


निर्देश-  क्लब, ब्यूटी पार्लर, स्पॉ-मसाज सेंटर बंद करने के निर्देश

चुनौती- छोटे सेलून, पंचायत भवन को लेकर अस्पष्ट निर्देश



चुनौतियों का अंबार-कैसे निपटेंगे सरकार


ऐसा नहीं हैं केवल इन्हीं निर्णयों के साथ चुनौती का अंबार हो. इसके अलावा भी आधा दर्जन ऐसे चुनौतियां जिससे अगर समय रहते नहीं निपटा गया तो आने वाला समय भयावह हो सकता है.


कैसे निपटेंगे इन चुनौतियों से


. अस्पतालों में भारी भीड़ को व्यवस्थित करने व्यव्सथा नहीं

. सभी शराब दुकानों को बंद करने के अब तक निर्देश नहीं

. बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट पर शत प्रतिशत स्क्रीनिंग की व्यवस्था नहीं

. धरातल पर प्रचार तंत्र का आभाव

. एम्स जैसे बड़े संस्थान में महज 12 आइसोलेटेड बैड की व्यवस्था

. स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों का पहुंच विहीन होना

. ग्रामीण क्षेत्रों के लिए कोई भी निर्देश अब तक जारी नहीं

. पलायन, मानव तस्करी से लौटे लोगों की पहचान की व्यवस्था नहीं


उम्मीद यही की सब बेहतर हो


कोरोना का एक पॉजिटिव केस (COVID-19) मिलने के बाद जरूर हाहाकार मचा हुआ है. मगर अव्यव्सथा और अभाव का आलाम ऐसा है कि अगर कहीं कोरोना के भयावह रूप धारण किया तो त्राही-त्राही मचने में देर नहीं लगेगी. बहरहाल, तमाम अव्यवस्थाओं के बीच उम्मीद यहीं कि समय रहते इस पर काबू पाया जा सके. आप खुद से सतर्क रहें, जागरूक बने, कोरोना से डरे नहीं.....लड़ें!


ये भी पढ़ें: 




News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 20, 2020, 8:33 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading