Coronavirus Alert: छत्तीसगढ़ में 89 संदिग्ध मरीज मिले, 77 की रिपोर्ट निगेटिव, 5 की रिपोर्ट का इंतजार

इलाकों से जांच सैंपल निगम ले रही है. (सांकेतिक चित्र)
इलाकों से जांच सैंपल निगम ले रही है. (सांकेतिक चित्र)

विश्वभर में कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण के खतरे के बीच छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में थोड़ी राहत वाली खबर है.

  • Share this:
रायपुर. विश्वभर में कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण के खतरे के बीच छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में थोड़ी राहत वाली खबर है. इस महामारी के अब तक 89 संदिग्ध मरीज छत्तीसगढ़ में मिले, जिनमें से 77 की रिपोर्ट निगेटिव पाई गई है. जबकि 7 का ब्लड सैंपल जांच के लिए उपयुक्त नहीं पाया गया है. हालांकि पांच मरीजों के ब्लड सैम्पल की रिपोर्ट अब तक नहीं मिली है. इनकी रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है. राज्य सरकार ने ऐतिहात के तौर पर कई कड़े निर्णय भी लिए हैं.

राज्स स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक कोविड 19 के राज्य में 89 संदिग्ध मरीजों में से 77 की रिपोर्ट निगेटिव आई है. बीते सोमवार को ये आंकड़े जारी किए गए. इस दिन 10 संदिग्धों के ब्लड सैम्पल की जांच कराई गई. प्रदेश में अब तक कुल 63 संदिग्ध मरीजों को होम आइसोलेशन पर रखा गया है. जबकि 23 संदिग्ध मरीजों का सर्विलांश पूरा हो चुका है. स्वास्थ्य विभाग ने सरकारी अस्पतालों समेत कई निजी अस्पतालों में भी कोरोना के लिए आइसोलेशन वार्ड बनवाए हैं. संदिग्धों को जांच के लिए वहां विशेष सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है.

मंदिर के मेले पर रोक
छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस से बचाव के लिए डोंगरगढ़ के प्रसिद्ध नवरात्रि मेले को भी रद्द करने का निर्णय सरकार द्वारा लिया गया है. मां बम्लेश्वरी ट्रस्ट समिति के अध्यक्ष नारायण अग्रवाल ने बताया कि ऐसा पहली बार है, जब सरकार ने मेले को रद्द करने का लिर्णय लिया है. मां बम्लेश्वरी मंदिर प्रांगण में हर साल नवरात्र में नगर परिषद द्वारा ये मेला लगाया जाता था. इस बार 25 मार्च से मेला शुरू होना वाला था, लेकिन कोरोना से बचाव के तहत सरकार ने इसे रद्द कर दिया है. हालांकि मंदिर में पूजा अर्चना परंपरागत तरीके से ही जारी रहेगी.
मल्टीप्लेक्स और सिनेमाहॉल बंद


कोरोना वायरस से प्रदेश की जनता को सुरक्षित रखने के लिए राज्य सरकार ऐतिहातन कई निर्णय ले रही है. इसके तहत ही 15 मार्च से 31 मार्च तक प्रदेश के सभी सिनेमा हॉल, मल्टीप्लेक्स को बंद रखने के निर्देश जारी किए गए हैं. इसके अलावा प्रदेश में प्रमुख पिकनिक स्पॉट जंगल सफारी, नंदनवन, कानन पेंडारी में भी 31 मार्च तक आम जनों के ​जाने पर रोक लगा दी गई है. इसे सख्ती से पालन के निर्देश दिए गए हैं.

ये भी पढ़ें:
Coronavirus Alert: छत्तीसगढ़ में कोरोना की आड़ में 300 में बिक रहा 20 रुपए का मास्क

कोरोना की दहशत के बीच कांग्रेस MLA के सामने बच्चों की जान से खिलवाड़ 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज