• Home
  • »
  • News
  • »
  • chhattisgarh
  • »
  • CPI ने कांग्रेस से पूछा- आखिर क्यों ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा अलविदा?

CPI ने कांग्रेस से पूछा- आखिर क्यों ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा अलविदा?

सीपीआई नेता ने कांग्रेस  पर कई सवाल खड़े कर दिए हैं.

सीपीआई नेता ने कांग्रेस पर कई सवाल खड़े कर दिए हैं.

सीपीआई प्रदेश सचिव आरडीसीपी राव का कहना है कि कांग्रेस पार्टी दिन पर दिन कमजोर होती जा रही है. पार्टी में कोई ऐसा नेता नहीं रह गया है जो पार्टी के संगठन को मजबूत कर सके.

  • Share this:
रायपुर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के सियासी उठापटक के बाद आखिरकार ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia ) ने बीजेपी (BJP) का दामन थाम ही लिया. इसके बाद छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) सीपीआई के वरिष्ठ नेता और प्रदेश सचिव आरडीसीपी राव ने कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय नेतृत्व पर सावल उठाए दिए हैं. सीपीआई नेता का कहना है कि जब नेहरू, गांधी परिवार के इतने नजदीक रहने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस पार्टी को छोड़ दिया है. अब  कांग्रेस पार्टी को इस मामले को लेकर मंथन करने की जरूरत है. कांग्रेस पार्टी में सीनियर नेता पार्टी को बचाने का काम नहीं कर रहे हैं. कांग्रेस में सभी सीनियर नेता अपने व्यक्तिगत स्वार्थ सिद्ध करने का काम कर रहे है, जिसका नतीजा यह हो रहा है कि पार्टी संगठन पूरी तरह से कमजोर होता जा रहा है.

सीपीआई ने कांग्रेस पर उठाए सवाल

सीपीआई प्रदेश सचिव आरडीसीपी राव का कहना है कि कांग्रेस पार्टी दिन पर दिन कमजोर होती जा रही है. पार्टी में कोई ऐसा नेता नहीं रह गया है जो पार्टी के संगठन को मजबूत कर सके. ऐसे में पार्टी को अपनी अंदरूनी कलह का नतीजा है कि वो कमजोर होती जा रही है. ऐसे में यूपीए के गठक दलों का कैसे भरोसा कांग्रेस पार्टी दिला पाएगी. इतना ही नहीं कांग्रेस पार्टी के खिलाफ वाम मोर्चा ने अपना मोर्चा खोल दिया है.

सीपीआई प्रदेश सचिव आरडीसीपी राव का कहना है कि कांग्रेस पार्टी दिन पर दिन कमजोर होती जा रही है.


सीपीआई नेता आरडीसीपी राव का कहना है कि कांग्रेस समय के साथ बदलती दिख नहीं रही है. 150 साल पुरानी पार्टी के नेता भी पुराने हो गए है. वहीं गांधी परिवार के इर्द-गिर्द ही कांग्रेस पार्टी का संगठन घूमता दिख रहा है. कांग्रेस युवा नेताओ को मौका देना नहीं चाहती है. इसलिए धीरे-धीरे पार्टी खत्म हो रही है. कांग्रेस पार्टी में व्यक्तिगत गांधी परिवार को बचाने का ही काम हो रहा है. अगर ऐसे ही कांग्रेस पार्टी के युवा नेता पार्टी से अलविदा करते रहेंगे तो सच में आने वाले समय में कांग्रेस पार्टी के सामने अपना अस्तित्व बचना काफी मुश्किल हो जाएगा. समय रहते कांग्रेस पार्टी को संगठन स्तर पर मंथन करने की जरूरत है.

ये भी पढ़ें: 

छत्तीसगढ़ में फिर बदलेगा मौसम, इन जिलों में ओलावृष्टि और बारिश की आशंका

MP की हलचल में छत्तीसगढ़ का तड़का, जोगी पिता-पुत्र ने सियासी आग में डाला 'घी' 

MP के सियासी संग्राम पर CM भूपेश बघेल बोले- अभी कमलनाथ का 'पत्ता' खुलना बाकी है!

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज