छत्तीसगढ़ : बदला मौसम का मिजाज, रायपुर समेत कई जिलों में तेज बारिश

बेमौसम बरसात से फसलों को नुकसान, किसान चिंतित. (सांकेतिक फोटो)

बेमौसम बरसात से फसलों को नुकसान, किसान चिंतित. (सांकेतिक फोटो)

बेमौसम बारिश और तेज अंधड़ से किसानों की फसलें तबाह हो रही हैं. विशेष कर आम और केला की फसलों पर व्यापक प्रभाव पड़ रहा है. यह स्थिति किसानों पर दोहरी मार की तरह है.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ में मौसम का मिजाज अचानक से बदल गया है. मौसम विभाग ने अगले दो से तीन घंटे के भीतर आकाशीय बिजली गिरने के साथ-साथ तेज आंधी और बारिश की चेतावनी जारी की है. रायपुर सहित प्रदेश के कई जिलों में तेज हवाओं के साथ बारिश भी हो रही है.

लॉकडाउन के कारण कीटनाश भी नहीं

पूरे प्रदेश में लॉकडाउन की वजह से किसानों की कमर ऐसे भी टूटी हुई है. ऐसे में बेमौसम बारिश और तेज अंधड़ से किसानों की फसलें तबाह हो रही हैं. विशेष कर आम और केला की फसलों पर व्यापक प्रभाव पड़ रहा है. यह स्थिति किसानों पर दोहरी मार की तरह है. वहीं सब्जी और रवि की फसलों पर कीट के प्रकोप का खतरा बढ़ गया है. चूंकि दुकानें बंद हैं इसलिए किसानों को कीटनाशक भी उपलब्ध नहीं हो पाएगा.

कल भी हो सकती है बारिश
मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा के अनुसार, एक द्रोणिका दक्षिण पूर्व राजस्थान और उसके आसपास से पूर्वी मध्य प्रदेश तक 0.9 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित होने की वजह से मौसम बदला है. वहीं एक चक्रीय चक्रवाती घेरा बिहार और उसके आसपास 1.5 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है. इसी तरह प्रदेश में 2 मई को कुछ स्थानों पर हल्की वर्षा होने अथवा गरज-चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है. प्रदेश में एक-दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ आकाशीय बिजली गिरने और अंधड़ चलने की संभावना है. मौसम में आए इस बदलाव से अधिकतम तापमान में मामूली गिरावट हो सकती है. शाम से ही छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव, दुर्ग, बिलासपुर, मुंगेली और रायपुर सहित कई जिलों में बारिश हो रही है और गरज-चमक के साथ आंधी भी चल रही है. मौसम विभाग का अनुमान है कि आने वाले 3 घंटे के भीतर अंधड़ आ सकता है और आकाशीय बिजली भी गिर सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज