• Home
  • »
  • News
  • »
  • chhattisgarh
  • »
  • नक्सली हिंसा में मारे गए दिवंगत विधायक भीमा मंडावी की पत्नी को मिलेंगे 5 लाख

नक्सली हिंसा में मारे गए दिवंगत विधायक भीमा मंडावी की पत्नी को मिलेंगे 5 लाख

दिवंगत विधायक भीमा मंडावी की पत्नी को पुनर्वास कार्ययोजना के तहत आर्थिक सहायता मिलेगी

दिवंगत विधायक भीमा मंडावी की पत्नी को पुनर्वास कार्ययोजना के तहत आर्थिक सहायता मिलेगी

मिली जानकारी के मुताबिक, सहायता राशि लाभार्थी के बैंक खाते में डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर के तहत भुगतान की जाएगी.

  • Share this:
    छत्तीसगढ़ केदंतेवाड़ा (Dantewada)में नक्सली हमले (Naxal Attack) में मारे गए बीजेपी (BJP) विधायक भीमा मंडावी (Bhima Mandavi) की पत्नी औयस्वि मंडावी को आर्थिक सहायता के रूप में 5 लाख रुपये मिलेंगे. नक्सली हिंसा से पीड़ित परिवारों की पुनर्वास कार्ययोजना के तहत मंडावी की पत्नी को यह आर्थिक सहायता दी जाएगी. कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने 5 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए स्वीकृति दे दी है.

    मिली जानकारी के मुताबिक, सहायता राशि लाभार्थी के बैंक खाते में डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर के तहत भुगतान की जाएगी और यह सहायता राशि बैंक में 3 वर्ष की अवधि के लिए सावधि जमा के रूप में रहेगी. यह आर्थिक सहायता उसी समय दी जानी थी लेकिन आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू होने के चलते इसकी मंजूरी नहीं दी गई थी.

    बता दें, 9 अप्रैल को नक्सलियों ने भीमा मंडावी के काफिले पर हमला कर उनकी हत्या कर दी थी. अंतिम संस्कार के बाद लोकसभा चुनावों में व्यस्तता के कारण पार्टी के कई विधायक और कोई बड़ा नेता उनके परिजनों से मिल नहीं पाए थे.

    गौरतलब है कि भीमा मंडावी की मौत के बाद दंतेवाड़ा विधानसभा सीट खाली हो गई है. दंतेवाड़ा सीट से भीमा मंडावी की पत्नी औयस्वि मंडावी ने चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर की थी. उन्होंने कहा था कि वह अपने पति के सपनों को पूरा करना चाहती हैं. अगर बीजेपी उन्हें टिकट देती हैं तो वह चुनाव लड़ेंगी.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइबकरें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज