छत्तीसगढ़ में अकाल की आहट, 12 जिलों में कम बारिश से सूखे के हालात

छत्तीसगढ़ सहित देशभर में अल्पवर्षा की स्थिति, गिरता भू-जल स्तर और पानी की बर्बादी भीषण जल संकट की ओर ईशारा कर रही है.

Surendra Singh | News18 Chhattisgarh
Updated: July 23, 2019, 10:44 AM IST
छत्तीसगढ़ में अकाल की आहट, 12 जिलों में कम बारिश से सूखे के हालात
मालूम हो कि प्रदेश के 12 जिले और 73 तहसीलों में अल्पवर्षा के कारण सूखे के हालात बनते नजर आ रहे है. (File Photo)
Surendra Singh | News18 Chhattisgarh
Updated: July 23, 2019, 10:44 AM IST
छत्तीसगढ़ में अल्पवर्षा के कारण अकाल की स्थिति बनती नजर आ रही है. आम लोगों से लेकर किसान भी बारिश नहीं होने से काफी परेशान हैं. तो वहीं राज्य की कांग्रेस सरकार को विपक्षी दल ने इस मुद्दे पर घेरना भी शुरू कर दिया है. मालूम हो कि प्रदेश के 12 जिले और 73 तहसीलों में अल्पवर्षा के कारण सूखे के हालात बनते नजर आ रहे है.

छत्तीसगढ़ सहित देशभर में अल्पवर्षा की स्थिति, गिरता भू-जल स्तर और पानी की बर्बादी भीषण जल संकट की ओर ईशारा कर रही है. मगर तमाम ईशारों के बावजूद धरातल पर कोई ठोस पहल नहीं की जा रही है. आलम ये है कि राज्य सरकार केवल कागजों में चुस्त दिखाई दे रही है, जबकि धरातल पर हकीकत ये है कि छत्तीसगढ़ में 21 लाख हेक्टेयर भूमि में सिंचाई की आवश्कता तो है, लेकिन महज 12 लाख हेक्टेयर में ही सिंचाई हो पाती है. मौजूदा हालात सूखे को लेकर ये है कि राज्य की 73 तहसीलों में सूखे के हालात बन गए है. अब अल्पवर्षा को लेकर किसान से लेकर राजनीतिक दलों ने भी अपनी चिंता दिखानी शुरु कर दी है.

छत्तीसगढ़ में 21 लाख हेक्टेयर भूमि में सिंचाई की आवश्कता तो है, लेकिन महज 12 लाख हेक्टेयर में ही सिंचाई हो पाती है. (File photo)


किसान और राजनीतिक पार्टियों ने कही ये बात

किसानों का कहना है कि बारिश नहीं होने से खेत किसानी का कार्य करने में परेशानी हो रही है. अब बारिश का इंतजार करने के अलावा और कोई चारा नहीं है. वहीं इस मामले में जेसीसी जे सुप्रीमो अजीत जोगी का कहना है कि छत्तीसगढ़ में सबसे बुरा अकाल मंडरा रहा है. उत्तरी हिस्से में बारिश नहीं हो रहा है. इस वजह से धान सूख रहा है. अगर आने वाले दिनों में बारिश नहीं हुई तो सूबे के 2/3 इलाके में सूखे की स्थिति बन सकती है. तो वहीं बीजेपी प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने का कहना है कि छत्तीसगढ़ में अकाल की स्थिति बनी हुई है. किसान परेशान हैं. जिन जिलों में सूखे की आशंका है वहां के लिए सरकार ने कोई ठोस तैयारी और प्लानिंग नहीं की है.

कृषि वैज्ञानिक ने कही ये बात

प्रदेश में सूखे के हालात को लेकर कृषि वैज्ञानिक ने भी अपनी चिंता जताई है. कृषि वैज्ञानिक संकेत ठाकुर मानते हैं कि अभी राज्य में सूखे को लेकर गंभीर हालात है. राज्य सरकार को किसानों के हित में आपातकालीन कदम उठाने की तैयारी करनी चाहिए. तो वहीं सूबे के कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे मानते हैं कि आने वाली सभी तकलीफों से निपटने की सारी तैयारी सरकार ने कर ली है.
Loading...

 

ये भी पढ़ें: 

सुकमा के भेज्जी इलाके में मुठभेड़, मारा गया एक लाख का इनामी नक्सली 

छत्तीसगढ़: बारिश के लिए करना होगा अभी और इंतजार, मौसम विभाग ने जताई ये आशंका 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 23, 2019, 10:44 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...