लाइव टीवी

सारकेगुड़ा में फर्जी मुठभेड़, पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह पर कार्रवाई की मांग

Awadhesh Mishra | News18 Chhattisgarh
Updated: December 3, 2019, 4:52 PM IST

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बीजापुर (Bijapur) जिले के सारकेगुड़ा (Sarakeguda) में जून 2012 में हुई फर्जी मुठभेड़ मामले में कार्रवाई की मांग कांग्रेस (Congress) ने की है.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बीजापुर (Bijapur) जिले के सारकेगुड़ा (Sarakeguda) में जून 2012 में हुई फर्जी मुठभेड़ मामले में कार्रवाई की मांग कांग्रेस (Congress) ने की है. छत्तीसगढ़ कांग्रेस (Chhattisgarh Congress) के अध्यक्ष मोहन मरकाम (Mohan Markam) के नेतृत्व में बस्तर कांग्रेस (Bastar Congress) के एक दल ने राज्यपाल अनुसुइया उईके से मंगलवार को मुलाकात की. मुलाकात में तत्कालीन सीएम डॉ. रमन सिंह (Dr. Raman Singh) समेत मामले में सभी जिम्मेदारों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग भी की गई.

राज्यपाल से मुलाकात के बाद पीसीसी (PCC) चीफ मोहन मरकाम (Mohan Markam) ने न्यूज 18 से चर्चा की. मोहन मरकाम ने कहा कि तात्कालिक मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह सहित सभी जिम्मेदारों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है. साथ ही मृतक के परिजनों को 20-20 लाख रुपए मुआवजा और एक-एक सरकारी नौकरी की मांग की है. राज्यपाल से मुलाकात के बाद उम्मीद है कि अब न्याय मिलेगा.

बैठक कर रहे ग्रामीणों पर बरसाई गोलियां
जून 2012 में बीजापुर के सारकेगुड़ा में सीआरपीएफ और अन्य सुरक्षा बलों की संयुक्त कार्रवाई में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ का दावा किया गया था. इस मुठभेड़ में 17 नक्सलियों के मारे जाने का दावा किया गया था, लेकिन सामाजिक कार्यकर्ताओं ने उन्हें ग्रामीण आदिवासी बताया. लगातार विरोध के बाद तत्कालीन सरकार ने न्यायिक जांच आयोग गठित की. जांच आयोग ने बीते नवंबर माह में अपनी रिपोर्ट सौंप दी. न्यायिक जांच आयोग की रिपोर्ट के मुताबिक सुरक्षा बलों की एकतरफा कार्रवाई में 17 आदिवासी मारे गए. इसी रिपोर्ट को आधार कर कांग्रेस ने कार्रवाई की मांग की है.

ये भी पढ़ें:
बिलासपुर गैंगरेप केस: पीड़िता ने कहा- 'रेप से पहले मेरे साथ मारपीट की गई' 

छत्तीसगढ़ की वो मां, जो अपने 'गे' बेटे के लिए दूल्हा लाने तैयार है  

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 3, 2019, 4:52 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर