लाइव टीवी

फानी तूफान में फंसा बुजुर्गों का दल सुरक्षित पहुंचा रायपुर, गुजरात से धार्मिक यात्रा में पहुंचे थे ओडिशा

Raghwendra Sahu | News18 Chhattisgarh
Updated: May 6, 2019, 10:45 AM IST
फानी तूफान में फंसा बुजुर्गों का दल सुरक्षित पहुंचा रायपुर, गुजरात से धार्मिक यात्रा में पहुंचे थे ओडिशा
ओडिशा से रायपुर पहुंचे लोग.

धार्मिक यात्रा में शामिल इन लोगों ने मदद के लिए गुजरात सरकार के साथ ही छत्तीसगढ़ से भी गुहार लगाई थी.

  • Share this:
गुजरात से धार्मिक यात्रा पर निकला 250 बुजुर्गों का दल ओडिशा में फानी तूफान में फंस गया था. ओडिशा में भारी तबाही के मंजर के बीच फंसे होने से खाने-पीने के साथ ही रुकने और तमाम दिक्कतों से जूझ रहा था. धार्मिक यात्रा में शामिल लोगों ने मदद के लिए गुजरात सरकार के साथ ही छत्तीसगढ़ से भी गुहार लगाई थी. इसके बाद जिला प्रशासन, रायपुर की ओर से पहले खेप में 125 लोगों को ओडिशा से रायपुर लाकर ठहराया गया है.

रायपुर में इंडोर स्टेडियम में फिलहाल लोगों के ठहरने, खाने-पीने और मेडिकल सुविधा उपलब्ध कराई गई. वहीं सोमवार को ट्रेन से इन सभी को गुजरात रवाना किया जाएगा. सोमवार शाम तक बाकी बचे 125 लोगों को भी रायपुर लाया जाएगा, जिन्हे फिर ट्रेन से गुजरात रवाना किया जाएगा. इंडोर स्टेडियम में बुजुर्गों के और जिला प्रशासन की टीम मौजूद है.

ओडिशा की तबाही का मंजर बताते हुए बुजुर्गों ने बताया कि वे सभी गुजरात से 19 अप्रैल से 21 दिनों के टूर पर निकले थे. ओडिशा से होते हुए गंगासागर जाने का प्लान था. सभी ओडिशा से गंगासागर गए, फिर वहां से लौटकर वापस ओडिशा आ रहे थे. इसी दौरान ओडिशा में फानी तूफान के कारण सभी फंस गए. पुरी से उनकी गुजरात के लिए ट्रेन थी. लेकिन तूफान के कारण वे गुजरात नहीं जा पा रहे थे.

आलम ये था कि सभी ने सड़क किनारे पूरी रात बिता दी. खाने और पानी की किल्लत होने लगी. उन्होने फिर पुरी से कटक जाने की सोची. बुजुर्गों का कहना है कि पुरी से कटक पहुंचाने के लिए एक बस वाले ने उनसे 10 हजार रुपए ले लिए. फिर उन्होने गुजरात और छत्तीसगढ़ सरकार से मदद की गुहार लगाई.

इस पूरे मामले में एडीएम आशुतोष पांडेय का कहना है कि फानी को लेकर छत्तीसगढ़ सरकार ने पहले ही अलर्ट जारी कर दिया था. हमे सूचना मिली थी कि ओडिशा में तकरीबन 250 लोगों के फंसे होने की सूचना मिली थी. कलेक्टर बसव राजू एस ने लोगों को रेस्क्यू के लिए निर्देश दिए. एक टीम बनाकर लोगों को ओडिशा से वापस लाने की तैयारी की गई जिसमे रेलवे ओर आरटीओ की मदद की गई. एसडीएम का कहना है कि पहली खेप में 125 लोगों को लाया गया है, वहीं बाकी के बचे लोगों को शाम तक रायपुर लाया जाएगा. सभी को सकुशल गुजरात रवाना करने की तैयारी कर ली गई है.

ये भी पढ़ें:

गर्मी की शुरुआत से ही महासमुंद में पानी की किल्लत, अधिकारी कर रहे ये दावे केन्द्रीय भूजल बोर्ड की रिपोर्ट में खुलासा, तेजी से घट रहा है रायपुर का ग्राउंड वाटर लेवल 

दो महीने से नहीं मिला वेतन, छत्तीसगढ़ के शिक्षाकर्मी कर सकते है फिर आंदोलन

BSC-MSC नर्सिंग की प्रवेश परीक्षा के आवेदन की तिथि बदली, अब इस तारीख तक कर सकेंगे अप्लाई 

क क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स     

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 6, 2019, 10:24 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर