लाइव टीवी

राज्यपाल के नाम से जारी फर्जी लेटर मामले में हुई FIR, लिखी थी ये बात

News18 Chhattisgarh
Updated: September 14, 2019, 5:54 PM IST
राज्यपाल के नाम से जारी फर्जी लेटर मामले में हुई FIR, लिखी थी ये बात
पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है. (File Photo)

लेटर के वायरल होने के बाद राज्यराल ने खुद पुलिस को कार्रवाई करने को कहा है.

  • Share this:
रायपुर.  छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की राज्यपाल अनुसुईया उइके (Governor Anusuiya Uikey) के दस्तखत (Signed) के साथ वायरल (Viral) हुआ एक फर्जी पत्र (Fake Letter) के मामले में पुलिस (Police) ने एक बड़ी कार्रवाई की है. फर्जी खत को लेकर पुलिस ने एफआईआर (FIR) दर्ज कर लिया है. जानकारी के मुताबिक, इस लेटर में 50 करोड़ में विधायकों को खरीद के साथ सूबे में भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सरकार बनाने की बात लिखी गई थी. लेटर के वायरल होने के बाद राज्यराल ने खुद पुलिस को कार्रवाई करने को कहा है.

पुलिस ने दर्ज की FIR

जानकारी के मुताबिक, रायपुर (Raipur)  के  सिविल लाइन थाने में राज्यपाल के नाम से जारी फर्जी पत्र के मामले में एफआईआर दर्ज कर लिया गया है. बताया जा रहा है कि राज्यपाल के विशेष सचिव ने थाने में शिकायत दर्ज कराई है. पुलिस ने फर्जी दस्तावेज बनाने और धोखाधड़ी के मामला केस दर्ज कर लिया है. राज्यपाल अनुसुइया उइके ने खुद इस पत्र को फर्जी करार दिया था.

होगी जांच

शिकायत के बाद अब पुलिस चिट्ठी की जांच करेगी. जानकारी के मुताबिक,  प्रारंभिक जांच में पत्र फर्जी पाया गया था. जांच में ये भी जानकारी मिली थी कि राज्यपाल पूर्व में राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग में थी, वहीं के लैटरपैड पर ये चिट्ठी लिखी गई है. इसमें छत्तीसगढ़ के किसी भाजपा कार्यकर्ता का भी नाम लिखा हुआ है. अब पुलिस उसकी तलाश में है.

ये भी पढ़ें: 

नान मामले में भट्ट के बयान पर कांग्रेस ने बीजेपी को घेरा, डॉ. रमन सिंह को बताया... 
Loading...

दंतेवाड़ा उपचुनाव: कांग्रेस स्टार प्रचारों की लिस्ट जारी, छत्तीसगढ़ आएंगे ये खास चेहरे  

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 14, 2019, 5:54 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...