सुर्खियां: बीजापुर में जापानी बुखार से एक बच्चे की मौत, बस्तर में लगेंगे मोबाइल टॉवर

बस्तर संभाग के बीजापुर जिले के एक 11 वर्षीय नाबालिग की मौत मेडिकल कॉलेज जगदलपुर में इलाज के दौरान हो गई.

News18 Chhattisgarh
Updated: July 16, 2019, 9:59 AM IST
सुर्खियां: बीजापुर में जापानी बुखार से एक बच्चे की मौत, बस्तर में लगेंगे मोबाइल टॉवर
बीजापुर के गंगालूर इलाके के गुंडापुर निवासी 11 वर्षीय बालक सोमा हेमला की जगदलपुर मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल (मेकॉज) में इलाज के दौरान जापानी बुखार से मौत हो गई.
News18 Chhattisgarh
Updated: July 16, 2019, 9:59 AM IST
छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग में भी जापानी बुखार ने अपनी दस्तक दे दी है. इसको लेकर स्वास्थ्य अमला एलर्ट मोड पर आ गया है. बस्तर संभाग के बीजापुर जिले के एक 11 वर्षीय नाबालिग की मौत मेडिकल कॉलेज जगदलपुर में इलाज के दौरान हो गई. मृतक बच्चे में जापानी बुखार के लक्षण थे. उत्तर प्रदेश के गोरखपुर व अन्य इलाकों में ये बुखार जुलाई अगस्त के महीने में काफी बच्चों को होता है, लेकिन बस्तर में भी इस दस्तक शुरुआती दिनों में ही दिखी है. इस खबर को छत्तीसगढ़ के मुख्य अखबारों ने मंगलवार के अंक में प्रमुखता से प्रकाशित किया है.

नईदुनिया ने लिखा है- बीजापुर के गंगालूर इलाके के गुंडापुर निवासी 11 वर्षीय बालक सोमा हेमला की जगदलपुर मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल (मेकॉज) में इलाज के दौरान जापानी बुखार से मौत हो गई. इसके पूर्व भी जिले में जापानी बुखार के मामले आते रहे हैं. सोमा हेमला को 27 जून को मेकॉज में भर्ती किया गया था. बीजापुर अस्पताल में चार दिन तक इलाज कराने के बाद खून का नमूना लेकर जगदलपुर भेजा गया, जिसकी रिपोर्ट पॉजीटिव आई. इस पर उसे मेडिकल कॉलेज जगदलपुर में रेफर किया गया था.

सांस लेने में तकलीफ
सबकुछ ठीक चल रहा था कि 14 जुलाई को उसे सांस लेने में तकलीफ होने लगी. इसके बाद एकाएक मौत हो गई. बता दें कि बीते माह 18 जून को जापानी बुखार से पीड़ित चार बच्चों को मेकॉज में भर्ती किया गया था. इनमें से चार वर्षीय बालक ग्राम चोलनार के छोटे मुंडापारा निवासी भुवने की 20 जून को मौत हो गई थी. वहीं तीन अन्य बच्चों की सेहत में सुधार के बाद छुट्टी दे दी गई थी. डॉक्टरों के मुताबिक वर्ष 2018 में छह माह के भीतर जापानी बुखार से छह बच्चों की मौत हो गई थी. पिछले वर्ष अक्टूबर से दिसंबर तक करीब 173 बच्चों की जांच कराई गई थी, जिनमें से 33 पॉजीटिव पाए गए थे.

बस्तर में लगेंगे मोबाइल टॉवर
छत्तीसगढ़ मंत्रिपरिषद की बैठक में कनेक्टिविटी रहित गांवों तक नेटवर्क विस्तार करने का निर्णय लिया गया है. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने चिप्स को इसके तहत स्काई योजना के माध्यम से 11 सौ से अधिक गांवों में नेटवर्क विस्तार के लिए 4जी नेटवर्क वाले मोबाइल टावर स्थापित करने के निर्देश दिये हैं. चिप्स के मुख्य कार्यपालन अधिकारी केसी देवसेनापति ने जानकारी दी कि राज्य के कनेक्टिविटी रहित 14 हजार से अधिक गांवों में 4जी नेटवर्क उपलब्ध कराया जाएगा. कम कनेक्टिविटी वाले बस्तर और सरगुजा संभाग में सर्वोधा प्राथमिकता के साथ नेटवर्क की उपलब्धता सुनिश्चित की जायेगी. अभी तक राज्य के 938 नये टॉवर स्थापित कर 13 हजार से अधिक गांवों में 4जी वोल्टी मोबाइल नेटवर्क स्थापित किया गया है. इस खबर को नईदुनिया ने मंगलवार के अंक में प्रमुखता से प्रकाशित किया है.

यह भी पढ़ें- मां के साथ मारपीट कर रहे शराबी बेटे की पिता ने की हत्या, जुर्म छुपाने को किया ये काम 
First published: July 16, 2019, 6:30 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...