Home /News /chhattisgarh /

टीएस सिंहदेव को कांग्रेस ने लोकसभा चुनावों के मद्देनजर सौंपा उड़ीसा का अस्थायी प्रभार

टीएस सिंहदेव को कांग्रेस ने लोकसभा चुनावों के मद्देनजर सौंपा उड़ीसा का अस्थायी प्रभार

छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव (फाइल चित्र)

छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव (फाइल चित्र)

टीएस सिंहदेव ने विगत विधानसभा चुनाव में बीजेपी के अनुराग सिंह देव को हराया था. छत्तीसगढ़ में वह मुख्यमंत्री पद के मजबूत दावेदारों में से एक थे.

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव को उड़ीसा का अस्थायी प्रभारी बनाया गया है. पार्टी हाईकमान की ओर से टीएस सिंहदेव को यह महत्वपूर्ण जिम्मेदारी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर दी गई है. गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव में जो कांग्रेस को जीत मिली है, उसमें टी एस सिंहदेव को भी प्रमुख रणनीतिकार के रूप में माना जाता है. यही वजह है कि राहुल गांधी ने टीएस सिंहदेव पर भरोसा जताया है. हालांकि एआईसीसी के मुख्यालय से जारी पत्र में यह सप्ष्ट  है कि उड़ीसा के स्थायी प्रभारी जितेंद्र सिंह ही बने रहेंगे.

टीएस सिंहदेव ने भोपाल के हमीदिया कॉलेज से इतिहास में एमए किया है. टीएस सिंहदेव शल्युजा शाही परिवार से हैं और वे छत्तीसगढ़ राजघराने के 118वें राजा हैं. टीएस सिंहदेव छत्तीसगढ़ राज्य की विधानसभा के विपक्षी नेता भी रहे चुके हैं. उन्होंने विगत विधानसभा चुनाव में बीजेपी के अनुराग सिंह देव को हराया था. छत्तीसगढ़ में वह मुख्यमंत्री पद के मजबूत दावेदारों में से एक थे. उनकी दावेदार की वजह से छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की बड़ी जीत के बाद भी पार्टी हाईकमान कई दिन तक सरकार का मुखिया तय नहीं कर सकी. दूसरे नेता के हाथ में कमान जाने के बाद भी शांत व विनम्र स्वभाव के इस नेता ने कोई बगावती तेवर नहीं दिखाए. शायद इसी वजह से उनको यह महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी गई है.

यह भी देखें -VIDEOः एक सवाल पर भड़के मंत्री कवासी लखमा ने पत्रकारों से कहा- आप RSS की भाषा ने बोलें

यह भी देखें - VIDEO: विधानसभा की तरह लोकसभा में भी बूथ लेवल पर महिला कांग्रेस रहेंगी एक्टिव

Tags: Congress, Raipur news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर