मुनाफे के लिए जानलेवा मिलावट का खेल, मध्यप्रदेश से पहुंच रही नकली खाद्य सामग्री

मिलावट पर नजर रखने के लिए खाद्य और औषधि प्रशासन विभाग है, लेकिन जानकारों की मानें तो पिछले 8 महीनों में इस विभाग ने कोई सेंपल लिया ही नहीं है.

Raghwendra Sahu | News18 Chhattisgarh
Updated: July 25, 2019, 1:20 PM IST
मुनाफे के लिए जानलेवा मिलावट का खेल, मध्यप्रदेश से पहुंच रही नकली खाद्य सामग्री
पिछले 8 महीनों में खाद्य विभाग ने कोई सैंपल लिया ही नहीं है. (Demo pic)
Raghwendra Sahu
Raghwendra Sahu | News18 Chhattisgarh
Updated: July 25, 2019, 1:20 PM IST
छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर सहित दूसरे शहरों में बड़ी मात्रा में मावा सहित मिलावटी खाद्य पदार्थों की भारी खेप ट्रेन, बस सहित अन्य माध्यमों से लाकर खपाई जाती है. खासकर मध्य प्रदेश के शहरों से यहां नकली और खाद्य पदार्थ आता है. मिलावट पर नजर रखने के लिए खाद्य और औषधि प्रशासन विभाग है, लेकिन जानकारों की मानें तो पिछले 8 महीनों में इस विभाग ने कोई सैंपल लिया ही नहीं है.

आरटीआई कार्यकर्ता संजीव अग्रवाल के मुताबिक आम लोगों को जब नक्सली खाद्य सामग्री की आशंका होती थी तब 5 या 10 रुपए देकर खाद्य पदार्थों की जांच करा सकता था लेकिन केन्द्र सरकार ने ये फीस बढ़ाकर 5 हजार रुपए कर दी है और द्रव्य पदार्थों के लिए 12 हजार रुपए. इससे अब आम आदमी जांच भी नहीं करवा रहे है. बढ़ती मिलावट खोरी ने आम लोगों को भी परेशान करके रख दिया है.

जानकारी के मुताबिक पड़ोसी राज्य मध्यप्रदेश से नक्सली खाद्य सामग्री छत्तीसगढ़ पहुंच रही है.


 

अधिकारियों की दलील

केन्द्र सरकार भी मानती है कि मिलावटखोरी हो रही है यही वजह है कि देश भर में 18 जगहों पर लैब बनाए जा रहे है जिनमे एक छत्तीसगढ़ भी शामिल है. देवभोग दुग्ध संघ के अध्यक्ष रसिक परमार भी मानते है कि मिलावटखोरी होती है. हालांकि छत्तीसगढ़ में कम होने की दलील भी दे रहे है.

 
Loading...

बीजेपी- कांग्रेस ने कही ये  बात

मिलावटखोरी पर नकेल न कस पाने को लेकर भाजपा राज्य सरकार पर निशाना साध रही है. साथ ही कड़े नियम बनाए जाने की मांग कर रही है. वहीं कांग्रेस का इस मामले में कहना है कि पिछली सरकार ने ही काम नहीं किया था और कमीशनखोरी होती थी लेकिन उनकी सरकार इस मामले में संजीदा होने की बात कह रही है और मिलावटखोरी से मुक्ति दिलाने के लिए प्रतिबद्धता दिखा रही है.

ये भी पढ़ें: 

बेटियों ने निभाई जिम्मेदारी: मुखाग्नि देकर पूरी की अपने पिता की अंतिम इच्छा

PM मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट में करप्शन, घूसखोर खा गए घर बनाने का पैसा

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 25, 2019, 1:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...