लाइव टीवी

नक्सली नेता पकड़े गए तो छत्तीसगढ़ से खत्म हो जाएगी ये समस्या: CM भूपेश बघेल

Awadhesh Mishra | News18 Chhattisgarh
Updated: September 22, 2019, 4:30 PM IST
नक्सली नेता पकड़े गए तो छत्तीसगढ़ से खत्म हो जाएगी ये समस्या: CM भूपेश बघेल
सीएम भूपेश ने कहा कि नक्सल समस्या के मामले में केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ हमारी बैठक हुई है.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने प्रदेश में नक्सल (Naxal) समस्या को लेकर बयान दिया है.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने प्रदेश में नक्सल (Naxal) समस्या को लेकर बयान दिया है. सीएम भूपेश ने कहा कि नक्सल समस्या के मामले में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) के साथ हमारी बैठक हुई है. उसमें बताया गया है कि जितने भी नक्सली नेता हैं, वो छत्तीसगढ़ राज्य के नहीं हैं. सबसे पहले उनको पकड़ने की रणनीति बनानी चाहिए. यदि वो पकड़े गए तो छत्तीसगढ़ से नक्सली (Naxalite) खत्म हो जाएंगे. सीएम बघेल ने कहा कि बीते 10 महीनों में सबसे ज्यादा नक्सली छत्तीसगढ़ में मारे गए हैं.

राजधानी रायपुर (Raipur) के प्रेस क्लब में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने आए सीएम भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने  नागरिक आपूर्ति निगम (नान) मामले में कटाक्ष करते हुए बीजेपी पर भी निशाना साधा. सीएम भूपेश ने कहा कि अपने राजनीतिक जीवन में पहली बार ऐसा विपक्ष देख रहा हूं, जिनके नेता प्रतिपक्ष जांच रोकने के लिए हाई कोर्ट में पीआइएल लगाते हैं. सरकार जांच को लेकर कदम बढ़ा रही है, विपक्ष कोर्ट जा रहा है.

झीरम मामले में केंद्र की मंशा समझ से परे
सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि झीरम कांड मामले में जांच को लेकर केंद्र सरकार की मंशा समझ से परे है. बिना पूर्ण जांच के एनआईए फाइनल रिपोर्ट सबमिट कर चुकी है. हमने एसआईटी गठित की थी और केंद्र से कहा था कि ये मामला हमारा है और हमें सौंप देना चाहिए. इतने बड़े नरसंहार के तथ्य जनता के सामने आने चाहिए. इसके अलावा सीएम भूपेश ने कहा कि छत्तीसगढ़ में जल्द ही पत्रकार सुरक्षा कानून लागू होगा. पत्रकार सुरक्षा कानून को लेकर कमेटी गठित कर दी गई है. जस्टिस आलम की अध्यक्षता में सरकार ने कमेटी गठित की है. दिल्ली में कमेटी की पहली बैठक हो चुकी है. इसको लेकर एडिटर गिल्ड के सदस्य छत्तीसगढ़ का दौरा भी कर चुके हैं.

ये भी पढ़ें: 

युवक ने गर्लफ्रेंड के साथ Tik Tok वीडियो बनाकर किया वायरल, भेजा गया जेल
निकाय चुनाव में जिताऊ प्रत्याशी की तलाश में अजीत जोगी, BJP-कांग्रेस को देंगे चुनौती
Loading...

रायपुर में 72 लाख रुपए में बने 11 ई-टॉयलेट, लेकिन लोगों ने नहीं किया इस्तेमाल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 22, 2019, 3:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...