• Home
  • »
  • News
  • »
  • chhattisgarh
  • »
  • ऑनलाइन रिश्ता ढूंढ रहे हैं तो हो जाएं सावधान, इस महिला को लगा लाखों का चूना

ऑनलाइन रिश्ता ढूंढ रहे हैं तो हो जाएं सावधान, इस महिला को लगा लाखों का चूना

प्रतीकात्मक तस्वीर.

प्रतीकात्मक तस्वीर.

अगर आप शादी के लिए ऑनलाइन रिश्ता रिश्ता ढूंढ रहे हैं तो ये खबर आपके लिए ही है. सोशल साइट में दिए प्रोफाइल पर यकीन करने से पहले पूरी तरह जांच पड़ताल कर लें.

  • Share this:
अगर आप शादी के लिए ऑनलाइन रिश्ता ढूंढ रहे हैं तो ये खबर आपके लिए ही है. सोशल साइट में दिए प्रोफाइल पर यकीन करने से पहले पूरी तरह जांच पड़ताल कर लें. क्योंकि एक ऑनलाइन वेबसाइट के माध्यम से विवाह करने वाली महिला एवं बाल विकास परियोजना कार्यालय पाली में पर्यवेक्षक के पद पर पदस्थ रही एक महिला ठगी का शिकार हो गईं हैं.

कुछ महीने साथ रहने के बाद शिकायतकर्ता महिला का पति छह लाख रुपये लेकर फरार हो गया, उसके बाद यह भी खुलासा हुआ कि वह पहले से ही शादीशुदा था. बिलासपुर तारबहार थाना क्षेत्र में रहने वाली एक महिला पाली ब्लॉक में महिला एवं बाल विकास परियोजना कार्यालय में डेढ़ साल से पर्यवेक्षक के पद पर पदस्थ है. इस दौरान उसने मेट्रोमोनियल साइट में अपनी शादी के लिए विज्ञापन दिया था.

इस पर गुजरात के विरमगाम निवासी इलेश दोशी नामक व्यक्ति ने खुद को अविवाहित बताते हुए महाराष्ट्र के बोड़ी में अपना होटल होना बताया था. इलेश ने महिला से कहा था कि शादी के बाद छत्तीसगढ़ में रहकर ऑयल मेकर मशीन का व्यवसाय करेगा. उसके झांसे में आकर युवती ने 22 दिसंबर 2017 को बिलासपुर स्थित टिकरापारा आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली थी. शादी के बाद रायपुर में एक फ्लैट किराए में लेकर इलेश रहने लगा. महिला भी छुट्टी के दिनों में इलेश के पास रहने रायपुर चली जाती थी.

धीरे-धीरे इलेश ने महिला से रुपये की वसूली शुरू कर दिया. कारोबार करने के नाम पर बार-बार भारी भरकम रुपये मांगे जाने पर दोनों के बीच अनबन होने लगी. इस बीच विवाहिता ने पति के कार्यों के बारे में जानकारी जुटानी शुरू की तो उसके पैरों तले जमीन खिसक गई. उसका पति पहले से ही शादी शुदा था और कई महिलाओं से संबंध रखता था, लेकिन जब इसकी जानकारी विवाहिता को लगी तब तक उसका पति साढ़ छह लाख रुपये वसूलकर रफूचक्कर हो चुका था.

ये भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ पैटर्न पर होगी देश की सुरक्षा, भाजपा में हार के बाद रार 

पुलिस जांच में पता चला कि आरोपित इलेश बहुत बड़ा जालसाज है और मेट्रोमोनियल साइट के माध्यम से अनेक नौकरी पेशा, तलाक शुदा व बेवा महिलाओं को झांसे में लेकर इस तरह की ठगी करते चला आ रहा है. यही नहीं इस जालसाज ने अपने अलग-अलग पते, आधार कार्ड, वोटर आइडी व एपीएल कार्ड के माध्यम से अब तक तालासरी महाराष्ट्र के अनिल शेट्टी, जूला भाई होटल, आराम उमरगांव गुजरात, सूरत के विरेंद्र भाई पटेल, राजकोट के नरेंद्र भाई पटेल एसके इंडस्ट्रीज, भावेश भाई डिसेंट इंडस्ट्रीज राजकोट, जयंतीलाल वोरा उद्धव डोमेसटिक मिल राजकोट, अधिवक्ता मनीष आर्य, भिलाई के विनय सिंह, पीएन शर्मा, सुधीर देवांगन, अमन वर्मा आदि से जमकर ठगी की है. पर्यवेक्षक युवती की शिकायत पर रायपुर के राजेंद्र नगर थाना में आरोपित के खिलाफ अपराध दर्ज किया गया है. आरोपी की तलाश पुलिस कर रही है.

ये भी पढ़ें: जानें- राजीव दीक्षित की संदेहास्पद मौत से जुड़े वे तथ्य जिनके आधार पर 9 वर्ष बाद होगी जांच 

ये भी पढ़ें: OPINION: भाजपा नेता ऐसे ही लड़ेंगे तो कैसे पूरा करेंगे छत्तीसगढ़ में मिशन-11 

ये भी पढ़ें: BJP सांसद ने की कांग्रेस सरकार की इस योजना की तारीफ, बताया जरूरी 

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज