Home /News /chhattisgarh /

indian railways confirmed job of 10 months old girl all facilities available with salary irctc cgnt

महज 10 महीने की बच्ची की पक्की हुई रेलवे में नौकरी, सैलरी समेत मिलेंगी ये सुविधाएं, लेकिन...

रेलवे में नौकरी के लिए 10 महीने की बच्ची का रजिस्ट्रेशन करवाया गया.

रेलवे में नौकरी के लिए 10 महीने की बच्ची का रजिस्ट्रेशन करवाया गया.

Indian Railways News: दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के रायपुर रेल मंडल के इतिहास में पहली बार 10 महीने की बच्ची की नौकरी पक्की की गई है. रेलवे ने बच्ची की नौकरी के लिए उसका रजिस्ट्रेशन करवाया है. रेलवे के रायपुर मंडल के इतिहास में यह पहला मौका है, जब इतने छोटे से बच्चे की नियुक्ति के लिये माइनर रजिस्ट्रेशन किया गया हो. दरअसल इस बच्ची के पिता राजेन्द्र कुमार पीपी यार्ड भिलाई में सहायक पद पर कार्यरत थे. राजेन्द्र कुमार का 1 जून को मंदिर हसौद के नजदीक सड़क दुर्घटना में निधन हो गया था. हादसे के दौरान बच्ची भी उनके साथ थी.

अधिक पढ़ें ...

रायपुर. महज 10 महीने की बच्ची की भारतीय रेलवे में नौकरी पक्की हो गई है. दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर रेल मंडल के कार्मिक विभाग ने दस माह की बच्ची की नियुक्ति के लिये रजिस्ट्रेशन किया है. रेलवे के रायपुर मंडल के इतिहास में यह पहला मौका है, जब इतने छोटे से बच्चे की नियुक्ति के लिये माइनर रजिस्ट्रेशन किया गया हो. दरअसल इस बच्ची के पिता राजेन्द्र कुमार पीपी यार्ड भिलाई में सहायक पद पर कार्यरत थे. राजेन्द्र कुमार का 1 जून को मंदिर हसौद के नजदीक सड़क दुर्घटना में निधन हो गया था. बच्ची के अनुकम्पा नियुक्ति के लिए उसका रजिस्ट्रेशन करवाया गया.

सड़क हादसे में बच्ची के माता और पिता दोनों की मृत्यु हो गई थी. हादसे के दौरान बच्ची भी उनके साथ थी. रेलवे के रायपुर रेल मंडल द्वारा राजेन्द्र के परिवार को नियमानुसार सभी सहायता उपलब्ध कराई गई. अनुकम्पा नियुक्ति रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया के लिये उनके घर पर अधिकारियों एवं कल्याण निरिक्षक मिलने जाना तय किया, लेकिन राजेन्द्र कुमार के परिजनों ने वरिष्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी से व्यक्तिगत रूप से कार्यालय में मिलना चाहा. बच्ची के दादा-दादी, मौसी, चाचा भी साथ में रहे एवं बच्ची के व्यस्क होने पर नियुक्ति की कार्य विधि को जाना एवं समझा. इसके बाद रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी की गई.

सैलरी और सुविधाएं मिलेंगी, लेकिन…
वरिष्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी उदय कुमार भारती ने बताया कि उनके लिये भी इस छोटी से बच्चे के अंगुठे का निशान लेना कठिन था. फिर भी बच्ची के बेहतर भविष्य के लिए प्रक्रिया की गई. बच्ची का रजिस्ट्रेशन करवा दिया गया है. अब बालिग होने के बाद बच्ची ड्यूटी ज्वाइन कर सकती है. ड्यूटी ज्वाइन करने के बाद उसे सैलरी व रेलवे द्वारा पदनुसार मिलने वाली अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी. फिलहाल बच्ची के बेहतर भविष्य को देखते हुए परिवार वालों की सहमती के बाद उसका रजिस्ट्रेशन कर रेलवे में नौकरी पक्की कर दी गई है.

Tags: Chhattisgarh news, Indian Railway news, Raipur news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर