होम /न्यूज /छत्तीसगढ़ /

Chhattisgarh Weather: बिलासपुर, मुंगेली, धमतरी समेत 11 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, बाढ़ के हालात

Chhattisgarh Weather: बिलासपुर, मुंगेली, धमतरी समेत 11 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, बाढ़ के हालात

Chhattisgarh weather: छत्तीसगढ़ में बारिश का दौर जारी, प्रदेश के 14 जिलों के लिए भारी बारिश का अलर्ट

Chhattisgarh weather: छत्तीसगढ़ में बारिश का दौर जारी, प्रदेश के 14 जिलों के लिए भारी बारिश का अलर्ट

Chhattisgarh weather News: छत्तीसगढ़ में पिछले तीन दिन से लगातार जारी बारिश से प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. ज्यादातर नदी-नाले उफान पर आ गए है. प्रदेश के 14 जिलों के लिए आज भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विभाग ने बिलासपुर, मुंगेली, जांजगीर-चांपा, धमतरी, महासमुंद में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. कोरिया, सुरजपुर, जशपुर, रायगढ़, सरगुजा, बलरामपुर, गरियाबंद, नारायणपुर और बस्तर में बारिश की संभावना जताई गई है.

अधिक पढ़ें ...

रायपुर. छत्तीसगढ़ में लगातार बारिश का दौर जारी है. गुरुवार को भी दिनभर प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में बारिश की संभावना है. प्रदेश के 14 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. बिलासपुर-द्रोणिका का असर देखने को मिल रहा है. पिछले तीन-चार से हो रही लगातार बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त है. ज्यादातर नदी-नाले उफान पर आ गए है. जगदलपुर जिले में पिछले तीन दिनों से हो रही भारी वर्षा से 10 अगस्त को निजी और शासकीय विद्यालयों के लिए अवकाश घोषित किया गया.

मौसम विभाग ने बिलासपुर, मुंगेली, जांजगीर-चांपा, धमतरी, महासमुंद में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. कोरिया, सुरजपुर, जशपुर, रायगढ़, सरगुजा, बलरामपुर, गरियाबंद, नारायणपुर और बस्तर में बारिश की संभावना जताई गई है. हालांकि राहत की बात यह है पिछले कुछ दिनों से जारी आफत की बारिश से राहत मिलेगी. 12 एवं 13 अगस्त से बारिश का दौर थमने की संभावना जताई गई है. 12 अगस्त को सिर्फ चार जिलों बिलासपुर, मंगेली, कबीरधाम और राजनांदगांव के लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है. बाकी पूरे प्रदेश में मौसम शुष्क रहेगा. 13 अगस्त को और ज्यादा राहत मिलने की संभावना है. 13 अगस्त को प्रदेश के सिर्फ तीन जिलों नारायणपुर, बीजापुर और बस्तर के लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है.

जगदलपुर शहर से जोड़ने वाले गांव पूरी तरह से कट गए हैं. 40 गांवों का शहर से संपर्क टूट चुका है. शहर के कई वार्डों के निचली बस्तियों में पानी आ जाने से कई परिवारों को राहत शिविरों में शिफ्ट किया गया है. इंद्रावती नदी भी उफान पर है. बस्तर में बाढ़ की बनते हालात को देखते हुए जिला प्रशासन के सभी विभागों के अधिकारियों को आपदा प्रबंधन की टीम में रखा गया है..

Tags: Chhattisgarh news, Raipur news, Weather news

अगली ख़बर