सरकार के खिलाफ नाराजगी जाहिर करने अनियमित कर्मचारी करेंगे महासभा

छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार के खिलाफ अनियमित कर्मचारी संघ मोर्चा खोलने की तैयारी कर रहा है. अपनी नाराजगी जाहिर करने के लिए अनियमित कर्मचारी संघ महासभा करने जा रहा है.

Raghwendra Sahu | News18 Chhattisgarh
Updated: February 11, 2019, 4:07 PM IST
सरकार के खिलाफ नाराजगी जाहिर करने अनियमित कर्मचारी करेंगे महासभा
सरकार के खिलाफ नाराजगी जाहिर करने अनियमित कर्मचारी करेंगे महासभा.
Raghwendra Sahu
Raghwendra Sahu | News18 Chhattisgarh
Updated: February 11, 2019, 4:07 PM IST
छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार के खिलाफ अनियमित कर्मचारी संघ मोर्चा खोलने की तैयारी कर रहा है. अपनी नाराजगी जाहिर करने के लिए अनियमित कर्मचारी संघ महासभा करने जा रहा है. 14 फरवरी को अनियमित कर्मचारी महासभा का आयोजन किया गया है. इसके तहत प्रदेशभर के अनियमित कर्मचारी राजधानी रायपुर में जुटेंगे. लोकसभा चुनाव से पहले अनियमित कर्मचारियों की नाराजगी का नुकसार चुनाव में सत्ता दल को हो सकता है.

अनियमित कर्मचारियों का आरोप है कि कांग्रेस ने चुनाव से पहले जो वादे अनियमित कर्मचारियों के साथ किए थे, उसे पूरा नहीं कर रही है. नियमितिकरण के साथ ही जॉब सिक्यूरिटी उनकी मुख्य मांगे थीं, लेकिन इन मांगों को पूरा करने के बजाय कांग्रेस की सरकार बनने के बाद 900 कर्मचारियों को बाहर कर दिया गया है, जिससे कर्मचारियों में रोष है.

अनियमित कर्मचारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष अनिल देवांगन का कहना है कि सरकार की वादाखिलाफी को लेकर ही आंदोलन करने की तैयारी है. इसके तहत ही 14 फरवरी को महासभा बुलाई गई है. महासभा के माध्यम से कर्मचारी अपना आक्रोश जाहिर करेंगे. अनिल देवांगन का कहना है कि मांगें पूरी नहीं होने से आगामी लोकसभा चुनाव में सत्ता दल को नुकसान हो सकता है. राजधानी रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में महासभा के लिए प्रशासन से अनुमति मांगी गई है.



ये भी पढ़ें: जानिए बस्तर की इस अनोखी कला के कायल क्यों हैं टेक्सटाइल से जुड़े कलाकार

ये भी पढ़ें: कपड़ों की रंगाई की दुनिया में मान बढ़ा रही है बस्तर की ये अनूठी कला, स्टडी के लिए आई न्यूयॉर्क की टीम 
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...