लाइव टीवी

छत्तीसगढ़ में IT की मेगा रेड: निशाने पर 'सरकार के करीबी', डायरी, फोन टैपिंग व करोड़ो की बेनामी संपत्ति का मिला ब्योरा!
Raipur News in Hindi

Awadhesh Mishra | News18 Chhattisgarh
Updated: February 27, 2020, 8:06 PM IST
छत्तीसगढ़ में IT की मेगा रेड: निशाने पर 'सरकार के करीबी', डायरी, फोन टैपिंग व करोड़ो की बेनामी संपत्ति का मिला ब्योरा!
रायपुर मेयर एजाज ढेबर. (फाइल फोटो)

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की राजधानी रायपुर (Raipur) में गुरुवार सुबह आयकर विभाग की टीम ने बड़ी दबिश दी है. सुबह से ही टीम रायपुर मेयर के ठिकानों पर दस्तावेज खंगाल रही है.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में गुरुवार को आयकर विभाग की मेगा रेड पड़ी. इस बड़ी छापामार कार्रवाई में प्रदेश सरकार के करीबी माने जाने वाले विभाग के निशाने पर हैं. आज सुबह से ही आयकर विभाग की केन्द्रीय टीम ने रायपुर, भिलाई, बिलासपुर समेत प्रदेश के अन्य स्थानों पर छापे मारे. सूत्रों के मुताबिक इस बड़ी कर्रवाई में करोड़ों रुपये नगद, करीब 200 करोड़ रुपये की बेनामी संपत्ति के दस्तावेज बरामद किए गए हैं. इसके अलावा अफसरों के ठिकाने से फोन टैपिंग की हार्ड डिस्क व घूस लेनदेन की डायरी भी बरामद होने की सूचना है. सभी ठिकानों पर जांच जारी है.

केन्द्रीय आयकर विभाग की टीम ने रायपुर के मेयर और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel) के करीबी माने जाने वाले एजाज ढेबर व उनके भाई अनवर ढेबर के ठिकानों पर आयकर (Income Tax) की टीम ने दबिश दी है. राजधानी रायपुर में संचालित ढेबर के होटल में आयकर की टीम जांच के लिए पहुंची है. सुबह से ही वहां आय और व्यय का ब्योरा जुटाया जा रहा है. टीम कारोबार से संबंधित दस्तावेज खंगाल रही है. बताया जा रहा है कि आयकर की टीम को यहां से टैक्स चोरी की आशंका है. इसके तहत ही दस्तावेजों की जांच की जा रही है.

इनके ठिकानों पर भी जांच
केन्द्रीय आयकर विभाग की टीम ने आईएएस अनिल टुटेजा, पूर्व सीएस विवेक ढांढ के रायपुर व अन्य जिलों के ठिकानों पर आयकर की टीम ने दबिश दी है. इनके अलावा आबकारी विभाग के ओएसडी अरुणपति त्रिपाठी के भिलाई स्थित निवास पर छापामारी जारी है. ये तीनों ही प्रदेश सरकार के करीबी माने जाते हैं. इनके अलावा शराब कारोबारी अमोलकर सिंह भाटिया, कारोबारी गुरुचरण सिंह होरा, डॉ ए फरिस्ता व सीए कमलेश्वर जैन, संजय संचेती के ठिकानों पर भी आयकर की जांच चल रही है. आईएएस अनिल टुटेजा प्रदेश सरकार के काफी करीबी माने जाते हैं. अनिल टूटेजा की शिकायत पर ही चर्चित नागरिक आपूर्ति निगम घोटाला मामले में भूपेश बघेल सरकार ने नए सिरे से जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है.



फिल्मी स्टाइल में रेड


बता दें कि आज सुबह आयकर के अधिकारियों ने अपनी टीम के साथ फिल्मी स्टाइल में रेड की. शुरुआत में केन्द्रीय टीम ने राज्य के किसी भी अधिकारी कर्मचारी की मदद नहीं ली. सीआरपीएफ के करीब 200 जवानों के साथ आयकर की टीम रायपुर पहुंची. अलग अलग राज्यों की पासिंग गाड़ी पर अलग अलग विभागों व संस्थानों का पोस्टर चस्पा किए. ताकि किसी को शक न हो. सुबह करीब 8 बजे से सभी ठिकानों पर एक साथ जांच शुरू की गई.
देखें लाइव TV.


ये भी पढ़ें:
बार-बार मौसम की मार, फसल खराब होने से 1 हजार करोड़ रुपये का नुकसान, कैसे संभले किसान?

नाबालिग बेटे को शराब पिलाने की शिकायत लेकर थाने पहुंची मां, जुर्म की धारा तय करने में उलझी पुलिस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 27, 2020, 10:50 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading