Home /News /chhattisgarh /

कालीचरण महाराज ने जेल में खाई दाल-रोटी, अंदर जाने से पहले चीखते हुए कही ये बात

कालीचरण महाराज ने जेल में खाई दाल-रोटी, अंदर जाने से पहले चीखते हुए कही ये बात

Kalicharan Maharaj News: महात्मा गांधी पर अमर्यादित टिप्पणी करने वाले कालीचरण महाराज ने जेल में दाल-रोटी खाकर रात गुजारी.

Kalicharan Maharaj News: महात्मा गांधी पर अमर्यादित टिप्पणी करने वाले कालीचरण महाराज ने जेल में दाल-रोटी खाकर रात गुजारी.

Kalicharan Maharaj News: महाराष्ट्र के संत कालीचरण महाराज को महात्मा गांधी के खिलाफ बोले गए अपशब्दों पर कोई अफसोस नहीं है. वे अपने विचारों के साथ कितनी मजबूती के साथ खड़े हैं इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि रायपुर जेल के अंदर जाने से पहले वह चीखे- ‘सारे हिंदू एक हो जाओ...’ कालीचरण ने जेल में दाल-रोटी खाई और ध्यान-योग. कालीचरण महाराज को कुछ दिन जेल में ही रहना होगा. उनके वकील 3 जनवरी को कोर्ट में बेल की अपील करेंगे.

अधिक पढ़ें ...

    रायपुर. महात्मा गांधी के खिलाफ अपशब्द कहने वाले महाराष्ट्र के संत कालीचरण महाराज कुछ जेल में ही रहेंग. उन्हें शुक्रवार शाम जिला अदालत में पेश किया गया और उसके बाद रायपुर जेल भेज दिया गया. जेल में भी कालीचरण महाराज के चेहरे पर किसी तरह का मलाल नहीं दिखा, उल्टे जेल के अंदर जाने से पहले वह चीखे- ‘सारे हिंदू एक हो जाओ…’ ये सुनते ही पुलिस हरकत में आई और उसे जेल के अंदर कर दिया.

    बताया जाता है कि कालीचरण महाराज जब जेल के अंदर गए तो सभी से मुस्कुरा कर और हाथ जोड़कर मिले. अपने बैरक में जाने के बाद वह शांत होकर बैठ गए. रात को उन्होंने दाल-रोटी खाई. उन्होंने यहां भी रोज की तरह ध्यान-योग किया. जबकि, अपने घर वह वह 2 से 3 घंटे जिम में बिताते हैं. बता दें, जेल से पहले उन्हें हसौद थाने की पुलिस को निगरानी में दिया गया था. यहां भी उन्होंने रोटी-दाल जैसा साधारण खाना ही खाया. उन्होंने पुलिस को सभी सवालों के जवाब तो दिए, लेकिन महात्मा गांधी के खिलाफ दिए बयान के लिए न क्षमा मांगी और न अफसोस जताया.

    वकील 3 जनवरी को लगाएंगे बेल की अर्जी

    बता दें, कालीचरण महाराज को 1 जनवरी पुलिस कस्टडी में रखा जाना था. लेकिन, दिनभर पूछताछ के बाद उसे 31 तारीख को ही कोर्ट में पेश किया गया. कालीचरण की तरफ से भी वकीलों की टीम अदालत पहुंच गई थी. करीब डेढ़ घंटे चली बहस के बाद कालीचरण को न्यायिक रिमांड पर जेल भेजा गया. उनकी बेल की अर्जी 3 जनवरी को लगाई जाएगी. गौरतलब है कि कालीचरण महाराज ने 26 दिसंबर को रायपुर की धर्म संसद में विवादित बयान दिया था. विवादित बयानों को देखकर उनके खिलाफ पहले धारा 294, 505(2) के तहत मामला दर्ज किया गया था, बाद में राजद्रोह के मामले में 153 A (1)(A), 153 B (1)(A), 295 A ,505(1)(B), 124A केस दर्ज किया गया.

    छत्तीसगढ़ पुलिस पर प्रोटोकॉल के उल्लंघन का आरोप

    रायपुर में महात्मा गांधी पर खराब टिप्पणी के आरोप में कालीचरण महाराज को रायपुर पुलिस ने मप्र के खजुराहो से गिरफ्तार किया. इस बीच इंटर स्टेट प्रोटोकॉल के उल्लंघन का हवाला देते हुए मप्र के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कालीचरण महाराज की गिरफ्तारी पर आपत्ति दर्ज कराई है. मिश्रा का कहना है कि छत्तीसगढ़ सरकार नोटिस भेजकर भी बुला सकती थी. आने से पहले ना सही गिरफ्तारी करने पर मध्य प्रदेश पुलिस को जानकारी तो देती. मिश्रा ने मध्य प्रदेश डीजीपी को छत्तीसगढ़ डीजीपी से पूरे तरीके पर विरोध दर्ज कराने के साथ स्पष्टीकरण मांगने के निर्देश दिए हैं.

    Tags: Chhattisgarh news, Raipur news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर