Lockdown: मुंबई में दूल्हा और बरेली में दुल्हन, रायपुर से पंडित जी ने कराई ऑनलाइन शादी
Raipur News in Hindi

Lockdown: मुंबई में दूल्हा और बरेली में दुल्हन, रायपुर से पंडित जी ने कराई ऑनलाइन शादी
ऑनलाइन शादी की चर्चा खूब हो रही है. (सांकेतिक तस्वीर)

Lockdown के कारण पहले से तय कई शादियों को स्थगित कर दिया गया, लेकिन इस बीच छत्तीसगढ़ में हुई ऑनलान शादी की खूब चर्चा हो रही है.

  • Share this:
रायपुर. कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण के खतरे से बचाने के लिए देशभर में लॉकडाउन है. इस दौरान पहले से तय कई शादियों को स्थगित कर दिया गया है, लेकिन इस बीच हुई एक अनोखी शादी की चर्चा छत्तीसगढ़ में खूब हो रही है. लॉकडाउन में मुंबई में फंसे दूल्हे और बरेली में रह रही दुल्हन की आनलाइन शादी रायपुर के एक पंडित ने कराई है. शादी की हल्दी, मेहंदी समेत अन्य सभी रस्में भी ऑनलाइन ही कराई गई.

अलग अंदाज में हुई शादी में मंडप सजा, शहनाई और ढोल भी बजे. हालांकि, लॉकडाउन के कारण बारात नहीं निकली. लोगों की भीड़ नहीं हुई, पर दूल्हे के सिर सेहरा बंधा और दुल्हन सजधज कर फेरों के लिए आयी. ठीक पांच बजे विवाह की विधि शुरू हुई. पंडित जी ने मंत्रोच्चार शुरू किया. इस विवाह को संपन्न कराया आईबीसी फेम सेलेब्रटी पंडित पीएस त्रिपाठी ने. इस दौरान अमेरिका, कनाडा, पुणे, रायपुर और बरेली के सैकड़ों रिश्तेदार वर और वधू को ऑनलाइन वीडियो के माध्यम से आशीर्वाद दिया.

lockdown part-2 in Chhattisgarh, PM Narendra Modi, Congress, छत्तीसगढ़, सरकार, लॉकडाउन, groom in Mumbai, bride in Bareilly, Pandit ji got married online from Raipur, रायपुर, ऑनलाइन शादी, रायपुर, मुंबई, बरेली
रायपुर में डांग और नारंग परिवार के बच्चों के बीच ऑनलाइन शादी हुई.




कानून का पालन करते हुए शादी
पंडित त्रिपाठी ने बताया कि भारतीय सनातन की रीत मानते हुए दो परिवारों ने ऑनलाइन विवाह की मंजूरी दी. हालांकि, समाज में अभी भी इस परिस्थिति में देश का कानून का पालन करते हुए इस ऑनलाइन शादी की झिझक दिखी. इस ऑनलाइन शादी में पुराने लोगों और कर्मकांडियों का विरोध भी किसी स्तर पर दिखा, मगर डांग और नारंग परिवार ने इसे अपनाया.

होनी थी डेस्टीनेशन वेडिंग
दरअसल, छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के शंकर नगर में रहने वाले संदीप डांग के बेटे सुषेण का विवाह बरेली के कृष्ण कुमार नारंग की बेटी कीर्ती नारंग के साथ दो साल पहले तय हुआ था. 19 अप्रैल को डेस्टीनेशन वेडिंग होनी थी. इसके लिए उत्तराखंड के एक रिजॉर्ट को बुक भी किया गया था. नाते-रिश्तेदारों को निमंत्रण भी जा चुका था. शादी की सारी तैयारियां हो चुकी थीं, लेकिन कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन हो गया. चूंकि विवाह तय मुहूर्त पर ही कराया जाना था. इसलिए वर और वधू पक्ष ने ऑनलाइन सुविधा के इस जमाने में तकनीक के सहारे शादी कराने का फैसला किया.

ये भी पढ़ें:
CORONA: हाई कोर्ट ने छत्तीसगढ़ सरकार पर जताई नाराजगी, दिए ये निर्देश

PM नरेन्द्र मोदी को सांसद का खत- 'उज्ज्वला योजना पर ऐसा करते तो ज्यादा लाभ मिलता'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज