सुनील सोनी: छत्तीसगढ़ में दूसरी सबसे बड़ी जीत, रायपुर में बचाई साख

News18Hindi
Updated: May 23, 2019, 9:30 PM IST
सुनील सोनी: छत्तीसगढ़ में दूसरी सबसे बड़ी जीत, रायपुर में बचाई साख
सुनील सोनी

बीजेपी प्रत्याशी सुनील सोनी ने कांग्रेस प्रत्याशी प्रमोद दुबे को 3 लाख 48 हजार 238 वोटों से हराया है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ की हाई प्रोफाइल लोकसभा सीटों में से एक रायपुर में बीजेपी ने लोकसभा चुनाव 2019 में प्रदेश की दूसरी सबसे बड़ी जीत हासिल की है. बीजेपी प्रत्याशी सुनील सोनी ने कांग्रेस प्रत्याशी प्रमोद दुबे को 3 लाख 48 हजार 238 वोटों से हराया है. प्रदेश में ये दूसरी सबसे बड़ी जीत है. दुर्ग से बीजेपी प्रत्याशी विजय बघेल ने 3 लाख 91 हजार से अधिक वोटों से जीत हासिल की है.

रायपुर सीट से सात बार सांसद रह चुके रमेश बैस की टिकट काटकर रायपुर नगर निगम के पूर्व महापौर सुनील सोनी को प्रत्याशी बनाया था. इस सीट से वैसे तो 25 प्रत्याशी मैदान में थे, लेकिन सीधा मुकाबला कांग्रेस के प्रत्याशी और महापौर प्रमोद दुबे से था. इस सीट से बीजेपी लगातार 7वीं बार जीत हासिल की है.

सुनील सोनी.


न्यूज 18 से सुनील सोनी कहते हैं कि उन्होंने ये चुनाव शहर सरकार में रहते अपने द्वारा किये कार्यों के दम पर लड़ा है. जनता ने उनके किए कार्यों को देखा है. इन कार्यों के दम पर ही जनता उन्हें संसद तक पहुंचाएगी. सुनील कहते हैं कि चुनाव के दौरान उन्होंने ज्यादा से ज्यादा लोगों तक खुद पहुंचने की कोशिश की. पार्टी की चुनाव संचालन समिति अगर एक दिन में 12 गांवों का दौरा तय करती थी तो वे 40 से अधिक गांवों का दौरा करते थे.

छात्र नेता से राजनीतिक कॅरियर की शुरुआत
सुनील सोनी संघ से जुड़े भाजपा नेता रहे हैं. इन्होंने अपनी राजनीतिक कॅरियर की शुरुआत बतौर छात्र नेता की थी. साल 1983 में वे रायपुर के दुर्गा कॉलेज के छात्र संघ अध्यक्ष बने. इसके बाद भाजपा जिला कमेटी से जुड़े. रायपुर नगर निगम में पार्षद चुने जाने के बाद वे साल 2000 से 25 दिसंबर 2003 तक सभापति रहे. दिसंबर 2003 से 2010 तक वे रायपुर नगर निगम के महापौर थे. इसके बाद 2011 से 2013 तक रायपुर डेवलपमेंट अथॉरिटी के अध्यक्ष रहे. इसके बाद साल 2014 से वे बीजेपी संगठन में प्रदेश उपाध्यक्ष हैं.

बृजमोहन अग्रवाल के चुनाव संचालक
Loading...

छत्तीसगढ़ के बीजेपी के कद्दवार नेता व पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल के करीबियों में सुनील सोनी माने जाते हैं. अब तक विधानसभा चुनावों में अजेय रहे बृजमोहन अग्रवाल के पांच चुनावों का संचालन का जिम्मा सुनील सोनी पर था. सुनील सोनी के पिता कंवर लाल सोनी भी राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ से जुड़े रहे हैं.

ये भी पढ़ें: CM भूपेश और मंत्री टीएस सिंहदेव के गढ़ में BJP प्रत्याशियों की बड़ी जीत 
ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़: हाई प्रोफाइल सीटों पर बीजेपी की बड़ी जीत के ये हैं 5 कारण 
ये भी पढ़ें: ज्योत्सना महंत: पति के राजनीतिक सफर के सहारे संसद का रास्ता तय करने की जुगत 
ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़: जहां लड़ रही 'सरकार', वहां बीजेपी प्रत्याशी का अंतर 1 लाख पार 
ये भी पढ़ें: दंतेवाड़ा नक्सली हमला: दिवंगत MLA भीमा मंडावी हत्याकांड की जांच करेगी NIA ये भी पढ़ें: चुन्नीलाल साहू: चर्चित सीट पर कांग्रेस के दिग्गज नेता को चुनौती 

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 23, 2019, 9:30 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...