Home /News /chhattisgarh /

'रूम टू रीड' के तहत एक दिवसीय कार्यशाला में 20 विभिन्न योजनाओं का शुभारंभ

'रूम टू रीड' के तहत एक दिवसीय कार्यशाला में 20 विभिन्न योजनाओं का शुभारंभ

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

'रूम टू रीड' के तत्वावधान में आयोजित एक दिवसीय राज्य स्तरीय कार्यशाला के शुभारंभ के साथ 20 विभिन्न योजनाओं का विमोचन भी किया गया.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को 'रूम टू रीड' के तत्वावधान में आयोजित एक दिवसीय राज्य स्तरीय कार्यशाला का शुभारंभ किया. इस दौरान 20 विभिन्न योजनाओं का शुभारंभ करते हुए उसका विमोचन भी किया. सभी अतिथियों ने शिक्षा की गुणवत्ता और स्तर को सुधारने की दिशा में कार्य करने की बात कही है.

राज्य के शासकीय स्कूलों में 50 लाख से ज्यादा बच्चे पढ़ाई करते हैं. इन स्कूलों में शिक्षा में गुणवत्ता लाने और सुधार के लिए एक दिवसीय राज्य स्तरीय कार्यशाला का आयोजन किया गया था. स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा 20 नए कार्यक्रमों का शुभारंभ किया गया.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि बहुत सारी परियोजनाओं का शुभारंभ किया गया है. इसमें विजयी, निखार, इंडिया लर्निंग प्रोजेक्ट, शिक्षकों का ऑनलाइन प्रशिक्षण, ई-समीक्षा, मुख्यमंत्री शहरी साक्षरता प्रणाली, सरल, अवसर, चर्चा पत्र, तैयार, मिशन एलओसी और ज्ञान शक्ति के कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया. साथ ही सीएम ने योजनाओं से जुड़ी पत्रिका और पम्पलेट का विमोचन भी किया.

वहीं समग्र शिक्षा के सहायक निदेशक डॉ. एम सुदेश ने कहा कि 20 अलग-अलग योजनाओं के लिए  शिक्षा विभाग ने काई खास विशेष बजट तो नहीं बनाया है, लेकिन विभिन्न निजी संस्थानों के सीएस आर मद का उपयोग इन योजनाओं के लिए किया जाएगा. प्रमुख रूप से टीबीसी, रूम टू रीड, मिलियन इस्पात फाउंडेशन समेत विभिन्न गैर शासकीय संगठन शामिल किए गए हैं.

कार्यक्रम में शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम और प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी समेत संबंधित विभाग के अधिकारी शामिल थे. राज्य में खेल को बढ़ावा देने के लिए 19 करोड़ की राशि विभाग ने जारी की है. वहीं शाला विकास फंड के लिए 40 करोड़ की राशि जारी की है. इसमें से 500 रुपए प्रति शिक्षकों के हिसाब से स्कूल में शाला विकास की राशि रखी जाएगी, जिसे आवश्यकतानुसार शिक्षक समय पर उपयोग कर सकेंगे.

ये भी पढ़ें:- हैरत की बात है... 13 महीनों से बीरगांव नगर निगम में नहीं हुई सामान्य सभा की बैठक

ये भी पढ़ें:- मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आरोप-'छत्तीसगढ़ में पहले थी कमीशनखोर सरकार'

Tags: Bhupesh Baghel, Chhattisgarh news, Raipur news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर