IT Raid: छापे में जब्त दस्तावेज से होगा बड़ा 'खुलासा', दिल्ली से रायपुर तब होगी जांच
Raipur News in Hindi

IT Raid: छापे में जब्त दस्तावेज से होगा बड़ा 'खुलासा', दिल्ली से रायपुर तब होगी जांच
माना जा रहा है कि दस्तावेजों की जांच के बाद बड़ा खुलासा हो सकता है.

सील किए आलमारी को बिना आयकर विभाग के अधिकारियों की मौजूदगी में खोला नहीं जा सकता है. अगर ऐसा किया गया तो सीआपीसी की धाराओं के तहत कार्रवाई की जा सकती है.

  • Share this:
रायपुर.  भूपेश सरकार के 'बेहद करीबियों' में शामिल पूर्व मख्य सचिव विवेक ढांढ, आईएएस अनिल टूटेजा, महापौर ऐजाज ढ़ेबर, कारोबारी गुरूचरण सिंह होरा सहित अन्य के ठिकानों पर आयकर (Income Tax Department) की हुई ताबड़तोड़ कार्रवाई के बाद जब्त दस्तावेज जल्द राज उगलना शुरू करेंगे. दरअसल, चार दिनों की कार्रवाई में आयकर विभाग को मिले दस्तावेजों में से कुछ को स्कैन कर दिल्ली भेजा गया है. तो वहीं टीम ने कुछ दस्तावेज को जब्त कर अपने साथ रख लिया है. तो वहीं अन्य को आलमारी में सील कर पीओ (प्रतिबंधात्मक आदेश) जारी किया गया है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रेरा के अध्यक्ष और पूर्व मुख्य सचिव विवेक ढांढ, कारोबारी कमलेश जैन के ठिकानों से जब्त दस्तावेजों को आलमारी में सील कर पीओ जारी किया गया है. इसका मतलब यह है कि सील किए आलमारी को बिना आयकर विभाग के अधिकारियों की मौजूदगी में खोला नहीं जा सकता है. अगर ऐसा किया गया तो सीआपीसी की धाराओं के तहत कार्रवाई की जा सकती है.

संजय दिवान, सिद्धार्थ सिंघानिया होंगे अहम कड़ी


सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक आयकर विभाग को छापेमारी (IT Raid) कार्रवाई के दौरान शराब कारोबारी संजय दिवान और मैन पॉवर सप्लायर सिद्धार्थ सिंघानिया के ठिकानों से भारी मात्रा में कच्चे का कारोबार मिला है. मसलन यह की शराब के ओवर रेट सहित अन्य कमीशन के बटवारे का पूरा हिसाब-किताब कच्चे में मिला है. इसके आधार पर आयकर विभाग लिंक तलाश कर शिकंजा कसने की तैयारी में है. वहीं अन्य के ठीकानों से भी जमीन, रेत, शराब सहित अन्य मामलों से जुड़े करोड़ों रूपये के दस्तावेज मिले है.





ईडी की होगी एंट्री


पूरे छापामार कार्रवाई के दौरान आयकर विभाग को कई ऐसे दस्तावेजी साक्ष्य मिले है जिसके आधार पर ईडी यानी की प्रवर्तन निदेशालय जांच करेगी. इसमें बेनामी संपत्ति, फर्जी कंपनी, फर्जी एकाउंट सहित अन्य साक्ष्य शामिल है. जानकारी के मुताबिक, बीते दिनों बीजेपी के पूर्व विधायक देवजी भाई पटेल ने आयकर विभाग को लिखित शिकायत कर कई तरह की गड़बड़ियों की शिकायत की थी. इसके बाद आयकर की कार्रवाई के पहले ही दिन यह अनुमान लगाया जाने लगा है कि ईडी भी या तो कार्रवाई कर रही है या आने वाले दिनों में करेगी. मगर ईडी के अधिकारियों के इकबालिया बयान से यह तय हुआ कि पूरे छापामार कार्रवाई की समानांतर रिपोर्ट ईडी को भेजी जा रही है.





राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम ने कहा कि केंद्र सरकार के पास सभी का काले कारनामों का कच्चा चिठ्ठा है.





सब के काले कारनामों को कच्चा चिठ्ठा है केंद्र के पास- रामविचार नेताम


आयकर विभाग के छापे से मचे हड़कंप के बीच बीजेपी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम ने कहा कि केंद्र सरकार के पास सभी का काले कारनामों का कच्चा चिठ्ठा है, किसका पैसा कहां-कहां इंवेस्ट किया गया सारी जानकारी है, साथ ही यह भी कहा कि सरकार के अति उत्साहित लोग ही पूरी जानकारी दे रहे है.







ये भी पढ़ें: 










 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading