छत्तीसगढ़ में लंबे इंतजार के बाद लगी मानसून की पहली झड़ी, ऑरेंज अलर्ट जारी

मौसम विभाग ने पूरे प्रदेश के लिए बारिश का ऑरेंज अलर्ट (अच्छी वर्षा) जारी करते हुए कहीं-कहीं भारी बारिश की भी चेतावनी दी है.

निलेश त्रिपाठी | News18 Chhattisgarh
Updated: July 3, 2019, 11:40 AM IST
छत्तीसगढ़ में लंबे इंतजार के बाद लगी मानसून की पहली झड़ी, ऑरेंज अलर्ट जारी
छत्तीसगढ़ में लंबे इंतजार के बाद मानसून की पहली झड़ी लगी.
निलेश त्रिपाठी | News18 Chhattisgarh
Updated: July 3, 2019, 11:40 AM IST
छत्तीसगढ़ में लंबे इंतजार के बाद मानसून की पहली झड़ी लगी. राजधानी समेत पूरे प्रदेश में मानसून एक साथ सक्रिय हुआ और सोमवार रात से मंगलवार को देर रात तक ऐसी झड़ी लगी कि कहीं भी बारिश रुकी नहीं. इस दौरान बस्तर और सरगुजा संभाग में दर्जनभर स्थानों पर भारी वर्षा हुई और 10 सेमी तक बारिश हुई. राजधानी रायपुर में भी वर्षा थमी नहीं और धीमे-धीमे ही सही, 24 घंटे में करीब 4 सेमी पानी गिरा.

मौसम विभाग ने पूरे प्रदेश के लिए बारिश का ऑरेंज अलर्ट (अच्छी वर्षा) जारी करते हुए कहीं-कहीं भारी बारिश की भी चेतावनी दी है. मौसम विशेषज्ञों ने बताया कि घने बादल बुधवार दोपहर के बाद विदर्भ और मध्यप्रदेश की तरफ बढ़ने लगेंगे. उसके बाद बारिश में कमी आ सकती है. लगभग 36 घंटे की झड़ी की वजह से पूरे प्रदेश में गर्मी गायब है और तापमान 7 डिग्री तक गिर गया है.

बस्तर में ज्यादा बारिश
ताकतवर सिस्टम के सक्रिय रहने से हवा की रफ्तार भी कुछ ज्यादा है. रायपुर में दिनभर औसतन 12 किमी की गति से हवा चली, जबकि औसतन यह 5-6 किमी की रफ्तार से ही चलती है. हालांकि पहली झड़ी का बस्तर और सरगुजा के वनक्षेत्रों में ज्यादा असर रहा. बड़ेराजपुर (बस्तर) और जैजेपुर (बिलासपुर) में 10 सेमी बारिश रिकार्ड की गई, जो प्रदेश में सर्वाधिक है. दुर्ग, रायपुर, महासमुंद, राजनांदगांव में भी अच्छी बारिश हुई.

ये भी पढ़ें:- छत्तीसगढ़ में बन सकते है 7 नये जिले, प्रशासनिक कवायद शुरू 

ये भी पढ़ें:- BJP नेता धरमलाल कौशिक ने किया आकाश विजयवर्गीय का बचाव
First published: July 3, 2019, 8:39 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...