Home /News /chhattisgarh /

शहर के बीच से गायब होगी छोटी लाइन, छुक-छुक की आवाज बनेगी बीते कल की बात

शहर के बीच से गायब होगी छोटी लाइन, छुक-छुक की आवाज बनेगी बीते कल की बात

रायपुर में लोगों के लिए रेलवे की छोटी लाइन और छोटी ट्रेन अब जल्द ही बीते कल की बात बनने वाली है.

रायपुर में लोगों के लिए रेलवे की छोटी लाइन और छोटी ट्रेन अब जल्द ही बीते कल की बात बनने वाली है.

छत्तीसगढ़ के रायपुर में लोगों के लिए रेलवे की छोटी लाइन और छोटी ट्रेन अब जल्द ही बीते कल की बात बनने वाली है. 120 साल पुरानी ये छोटी लाइन और ट्रेन रायपुर के लोग 15 दिन बाद देख नहीं पाएंगे.

    छत्तीसगढ़ के रायपुर में लोगों के लिए रेलवे की छोटी लाइन और छोटी ट्रेन अब जल्द ही बीते कल की बात बनने वाली है. 120 साल पुरानी ये छोटी लाइन और ट्रेन रायपुर के लोग 15 दिन बाद देख नहीं पाएंगे.

    देशभर में बहुत कम ही जगह ऐसी हैं, जहां पर छोटी लाइन पर ट्रेन चलती हैं. जो लोगों की उत्सुकता का विषय भी रहती हैं. लेकिन अब रायपुर के बीच से गुजरने वाली छोटी लाइन पर फोरलेन एक्सप्रेस वे निर्णाण की प्रक्रिया शुरू होनी है और पंद्रह दिन में छोटी लाइन को उखाड़ने का कार्य शुरू हो जाएगा. इसके चलते उसके चारों तरफ की झुग्गियां भी हटा दी जाएंगी.

    दरअसल छोटी लाइन का शेड रायपुर रेलवे स्टेशन के पास है. जिसके चलते हर दिन सुबह-शाम छोटी ट्रेन तेलीबांधा तक आती थी. उसके बाद यह धमतरी के लिए रवाना होती थी.

    फोरलेन का काम जल्द होगा शुरू

    रायपुर रेलवे स्टेशन से शहर के बीच से होकर शदाणी दरबार तक फोरलेन तैयार होना है. जिसका वर्क ऑर्डर गुजरात की कंपनी को मिला है. छत्तीसगढ़ सड़क विकास निगम ने 12 किमी. के फोरलेन का वर्क ऑर्डर रिलीज कर दिया है. 12 किमी के मार्ग में तीन बड़े ब्रिज भी बनाए जाएंगे. पूरे प्रोजेक्ट की अनुमानित लागत 258 करोड़ रुपए है.

    अब कहां से चलेगी छोटी ट्रेन

    रायपुर से 20 किमी. दूर केंद्री से छोटी लाइन पर ट्रेन संचालित रहेंगी. केंद्री से अभनपुर, राजिम और धमतरी तक छोटी ट्रेन का फेरा रहेगा. केंद्री में छोटी ट्रेन का शेड 7 करोड़ की लागत से तैयार किया जा रहा है. ​

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर