Home /News /chhattisgarh /

Chhattisgarh News: 'जल्दबाजी में फैसला', मनेंद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर विवाद पर BJP ने सरकार को घेरा

Chhattisgarh News: 'जल्दबाजी में फैसला', मनेंद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर विवाद पर BJP ने सरकार को घेरा

छत्तीसगढ़ में मनेंद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर  को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है.

छत्तीसगढ़ में मनेंद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है.

Raipur News: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने चार नए जिलों (Chhattisgarh New District 2021) की घोषणा की थी, लेकिन मनेंद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर (Manendragarh-Chirmiri-Bharatpur) के लिए सूचना का प्रकाशन नहीं किया गया है. जानकारों की मानें तो सीमा और राजनीतिक विवाद के कारण इस जिले का प्रकाशन रोक दिया गया है.

अधिक पढ़ें ...

रायपुर. 15 अगस्त को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) ने अपने संबोधन में चार नए जिले सत्ती (Sakti) , मोहला-मानपुर-अंबागढ़ (Mohla-Manpur-Ambagarh), सारंगढ़-बिलाईगढ़ (Sarangarh-Bilaigarh) और मनेंद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर (Manendragarh-Chirmiri-Bharatpur) बनाने की घोषणा की थी. सीएम बघेल के घोषणा को अमलीजामा पहनाते हुए तीन नए जिलों के लिए पहले राजपत्र में प्रकाशन किया गया. फिर राजस्व एवं आपद प्रबंधन विभाग ने सूचना प्रकाशित कर दो माह के भीतर दावा-आपत्ति और निकारण के साथ कलेक्टरों से अभिमत देने को कहा है. मगर मुख्यमंत्री ने जिन चार जिलों की घोषणा की थी उसमें से मनेंद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर के लिए सूचना का प्रकाशन नहीं किया गया है. जानकारों का कहना हैं कि सीमा और राजनीतिक विवाद के कारण इस जिले का प्रकाशन रोक दिया गया है.

अब इसे लेकर बीजेपी सरकार पर हमलावर दिखाई पड़ रही है. बीजेपी की ओर से नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि सिर्फ मनेंद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर में ही नहीं बल्कि सभी चारों जिलों में विवाद की स्थिति है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने आनन-फानन में सिर्फ घोषणा के उद्देश्य से ही ऐलान किया है, क्योंकि सरकार जानती है घोषणा करना भर है.

मंत्री अमरजीत भगत ने दिया बड़ा बयान
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की घोषणा के बाद विवाद की स्थिति के कारण एक जिले को लेकर सूचना का प्रकाशन ना होना इस पर विपक्ष का हमलावर होने की स्थिति में भला सत्तापक्ष कैसे चुप रहने वाली है. विपक्ष के तंज पर पलटवार करते हुए सत्तापक्ष की ओर से मंत्री अमरजीत भगत ने कहा कि कुछ कारणों से सूचना का प्रकाशन रुका हुआ है, जल्द ही हो जाएगा. वहीं बीजेपी के बयान पर उन्होंने कहा कि बीजेपी ने हर बात पर राजनीति करना धर्म बना लिया है. वहीं पीसीसी संचार प्रुमख सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि छत्तीसगढ़ में 15 सालों तक बीजेपी की सरकार थी. बीजेपी चाहती तो नए जिलों का ऐलान कर देती. मगर अब जब कांग्रेस की सरकार नया जिला बना रही है तो बीजेपी को इस पर बोलने का नैतिक अधिकार ही नहीं है.

सोनिया गांधी के बयान पर सियासत

दिल्ली में आयोजित कांग्रेस की बैठक में सोनिया गांधी द्वारा बीजेपी और आरएसएस के झूठ को बेनकाब करने के बयान पर सूबे में राजनीति शुरू हो गई है. बीजेपी ने सोनिया गांधी के बयान को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कांग्रेस पहले अपना घर संभाल लें तो बेहतर होगा. मीडिया से चर्चा करते हुए विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि कांग्रेस आज देशभर में अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही है. कांग्रेस की लुटिया डूबते जा रही है. कांग्रेस अपनी पार्टी का बचाने में सफल नहीं है. अगर कोई झूठ बोलने की पार्टी है तो वह कांग्रेस है जहां झूठ बोलने का प्रशिक्षण दिया जाता है. साथ ही यह भी कहा कि प्रियंका गांधी को छत्तीसगढ़ आकर किसानों से, बेरोजगारों से, महिलाओं से बातचीत करना चाहिए कि कैसे यहां की सरकार ने झूठा वादा किया था. यूपी में हवा-हवाई बातें करने से अच्छा यहां आकर जमीनी सच्चाई को देखना चाहिए.

ये भी पढ़ें: Chhattisagarh: दिवाली में सिर्फ 2 घंटे आतिशबाजी, ऑनलाइन नहीं बिकेंगे पटाखे, पढ़ें जरूरी गाइडलाइंस

कांग्रेस ने किया पलटवार

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक के बयान पर पलटवार और सोनिया गांधी के बातों को दोहराते हुए पीसीसी के संचार प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि जिस प्रकार से बीजेपी और आरएसएस देशभर में झूठा प्रोपेगेंडा चला रही है उससे देश को बचाने की बेहत जरूरत है, इसलिए अभियान चलाया जाएगा. वहीं महंगाई के खिलाफ आंदोनल की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि दिल्ली में प्रदेश अध्यक्षों की बैठक हुई है. नवंबर में महंगाई को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ आंदोलन चलाया जाएगा.

Tags: Bhupesh Baghel, BJP, Chhattisgarh news, Congress, Raipur news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर