फेसबुक पर महिलाओं से दोस्ती कर नाइजीरियन देता था महंगे गिफ्ट का झांसा, फिर..

News18 Chhattisgarh
Updated: September 9, 2019, 8:10 PM IST
फेसबुक पर महिलाओं से दोस्ती कर नाइजीरियन देता था महंगे गिफ्ट का झांसा, फिर..
छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर की पुलिस ने एक विदेशी नागरिक (नाइजीरियन) को गिरफ्तार किया है.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की राजधानी रायपुर (Raipur) की पुलिस (Police) ने एक विदेशी नागरिक (नाइजीरियन) को गिरफ्तार (Arrest) किया है.

  • Share this:
रायपुर: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की राजधानी रायपुर (Raipur) की पुलिस (Police) ने एक विदेशी नागरिक (नाइजीरियन) को गिरफ्तार (Arrest) किया है. आरोपी फेसबुक (Facebook) पर महिलाओं से दोस्ती कर उन्हें अपनी जाल में फंसाता था. इसके बाद उनको लाखों रुपयों की चपत (Fraud) लगा देता था. रायपुर की ठगी की शिकार एक महिला की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी पार्सल में उपहार भेजने के नाम पर महिलाओं को झांसा देता था और फिर उनके साथ ठगी की वारदात को अंजाम देता था.

रायपुर पुलिस (Raipur Police) से मिली जानकारी के मुताबिक ठग गिरोह का ये सदस्य फेसबुक (Facebook) के माध्यम से चैट कर धीरे-धीरे महिलाओं का विश्वास हासिल करता था. इसके बाद उनसे मोबाइल नंबर लेकर बात भी करता था. धीरे धीरे बात बढ़ने पर वो पार्सल के जरिए कीमती उपहार भेजने का झांसा महिलाओं को देता था और फिर इसके एवज में पैसों की ठगी करता था. और फिर मोबाइल नंबर लेकर उनसे बात करता.

इस तरह बनाया निशाना
रायपुर के एडिशनल एसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने बताया कि प्रार्थिया महिला ने थाना सिविल लाईन में रिपोर्ट दर्ज कराई थी. शिकायत के मुताबिक अगस्त 2019 में प्रार्थिया का परिचय व दोस्ती फेसबुक के माध्यम से एलेक्स एंटोनी नामक व्यक्ति से हुई थी. दोनों के बीच बातचीत होती रहती थी. इसी दौरान एलेक्स एंटोनी ने महिला को फोन कर बताया कि आपके लिए कुछ आयटम जैसे- जूते, बैग और कुछ पैसे पार्सल में डालकर भेज दिया हूं0 दूसरे दिन प्रार्थिया के मोबाईल फोन पर फोन आया जो स्वयं को एजेंट बताया तथा अपना नाम अनिता होना बताया जो प्रार्थिया से बोली कि आपको सामान का एयरपोर्ट क्लियेरेंस के लिए 50 हजार रुपये की राशि देनी पड़ेगी और प्रार्थिया के मोबाइल फोन पर एकाउंट नंबर मैसेज के माध्यम से भेज दी, जिस पर प्रार्थिया ने एजेंट द्वारा दिये गये खाते में 50 हजार रुपये जमा भी कर दिए.

Chhattisgarh Police
पुलिस गिरफ्त में आरोपी नाइजीरियन.


फिर इस तरह और ठगे
दूसरे दिन एजेंट ने प्रार्थिया को दूसरे मोबाइल नंबर से फोन कर बताया गया कि एंटिक टेरेरिस्ट सर्टिफिकेट के लिए उसे 1 लाख 45 हजार रुपये जमा करने होंगे. क्योंकि पार्सल के अंदर राशि भी है जो कि पाउन्डस में है और इंडिया में पार्सल के अंदर फॉरेन करेंसी एलाउड नहीं है. यह रकम पार्सल के डिलवरी के निकलते ही रिफन्ड हो जाएगी. महिला ने दो दिनों में अलग-अलग एकाउंट नंबरों में 1 लाख 45 हजार रुपये आनलाइन जमा कर दिए. अगले दिन एजेंट अनिता ने पुनः प्रार्थिया को फोन कर कहा कि फायनेंस मिनिस्ट्री को टैक्स देना पड़ेगा, क्योंकि पार्सल में रकम बहुत ज्यादा है तो बिना टैक्स पटाए रिलिस नहीं किया जाएगा. अनिता द्वारा 3,60,000 रुपये की मांग की गई जो कि बहुत बड़ी रकम होने से प्रार्थिया ने 2 दिन का समय मांगा. इस दौरान उसकी आरोपी एलेक्स से बातचीत होती रही. कुछ दिन बाद पार्सल नहीं मिलने पर महिला को ठगे जाने का एहसास हुआ. फिर मामले में सिविल लाइन थाने में शिकायत दर्ज कराई गई.
Loading...

ये भी पढ़ें: कांग्रेस के मंत्री कवासी लखमा की नसीहत! नेता बनना है तो एसपी-कलेक्टर का कॉलर पकड़ो 

ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ BJP में क्यों गायब हो गई सेकेंड लाइन, क्या हाशिये पर हैं युवा नेता?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 9, 2019, 8:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...