लाइव टीवी

महुए की शराब नहीं, अब मजा लीजिए इसके लड्डू का, मिल सकता है ये फायदा
Raipur News in Hindi

Devwrat Bhagat | News18 Chhattisgarh
Updated: February 25, 2020, 10:57 AM IST
महुए की शराब नहीं, अब मजा लीजिए इसके लड्डू का, मिल सकता है ये फायदा
महुए के लड्डू से कई फायदे भी हो सकते हैं.

महुआ अब महिलाओं के लिए रोजगार का साधन भी बन चुका है यानी एक तरह से कुपोषण दूर करने का काम महुआ लड्डू करता है.

  • Share this:
रायपुर. जिस महुए की पहचान छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में केवल शराब बनाने के लिए थी अब उसी महुए (Mahua) से स्वादिष्ट और सेहत से भरपूर लड्डू तैयार किए जा रहा हैं. रायपुर (Raipur) के राष्ट्रीय कृषि मेले (National Agricultural Fair)  में महुए से बने इन लड्डूओं को प्रदर्शन और विक्रय के लिए रखा गया है. जशपुर से आई सुलेमा स्व-सहायता समुह की महिलाओं ने इन लड्डूओं को तैयार किया है. इनका कहना है कि महुए में विटामिन ए (Vitamin A), विटामिन सी (Vitamin C) की अधिकता की वजह से ये आंखों की रौशनी और त्वचा रोक में काफी असरदार है. इतना ही नहीं महुए में आयरन की प्रचुरता होने के कारण ये शरीर में खून की मात्रा बढ़ाने के साथ शरीर को ऊर्जा देने, भूख बढ़ाने और एक्सट्रा फैट को भी कम कर सकती है. यही महुआ अब महिलाओं के लिए रोजगार (Employment) का साधन भी बन चुका है यानी एक तरह से कुपोषण दूर करने का काम महुआ लड्डू (Mahua Laddu) करता है.

ऐसे बदलेगी महुए की पहचान

जशपुर से महुआ लड्डू की प्रदर्शनी और विक्रय केन्द्र पहुंची सुलेमा स्व-सहायता समूह की सुलेमा का कहना है कि जन सामान्य में महुए का उपयोग केवल शराब बनाने के लिए किये जाने की ही जानकारी है. लेकिन उनकी महिला समूह ने सोचा की महुए का ऐसा उपयोग किया जाए जिससे लोगों को फायदा हो और इसलिए उन्होंने अपने समूह में महुए से लड्डू तैयार करना सीखाया. उन्होंने बताया कि इसमे लागत भी ज्यादा नहीं आती केवल महुए के साथ स्वाद के लिए हल्का तिल और फल्ली मिलाया जाता है और बहुत ही आसानी से ये पौष्टिक उत्पाद तैयार हो जाता है. इसे बनाने में स्वच्छता का विशेष ध्यान रखा जाता है.

महुए में विटामिन ए, विटामिन सी की अधिकता की वजह से ये आंखों की रौशनी और त्वचा रोक में काफी असरदार है.




हो सकता है ये फायदा

महिलाओं ने बताया कि महुए का एक लड्डू सुबह किए गए नाश्ते के बराबर होता है यानी कुपोषण दूर करने में महुए का लड्डू महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकता है. साथ ही उन्होंने ये भी बताया कि महुआ से लड्डू का निर्माण उन्हें स्वरोजगार के रूप में नया साधन मिला है जिससे समूह की महिलाएं इसका व्यापक स्तर पर उत्पादन कर अपनी आमदनी का जरिया ढूंढ रही है.

 

 

ये भी पढ़ें: 

 कोरबा में दर्दनाक सड़क हादसा, ट्रक और बोलेरो की टक्कर में तीन की मौत, 2 गंभीर 

 

रायपुर रेलवे स्टेशन का पार्किंग बना गुंडागर्दी का अड्डा, मारपीट से लेकर छेड़छाड़ तक की

 

शिकायत हाईटेंशन तार की चपेट में आई 4 साल की बच्ची, झुलसने से मौके पर मौत   

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 25, 2020, 10:53 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर