लाल आतंक के आगे न सरकार घुटने टेकेगी, न बस्तर की जनता: सीएम भूपेश बघेल
Raipur News in Hindi

लाल आतंक के आगे न सरकार घुटने टेकेगी, न बस्तर की जनता: सीएम भूपेश बघेल
दंतेवाड़ा में श्रद्धांजलि सभा में शामिल हुए सीएम भूपेश बघेल.

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में लोकसभा चुनाव से ऐन पहले हुए नक्सली हमले के बाद राज्य सरकार ने लाल आतंक के खिलाफ सख्त रूख अपनाने के संकेत दिए हैं.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में लोकसभा चुनाव से ऐन पहले हुए नक्सली हमले के बाद राज्य सरकार ने लाल आतंक के खिलाफ सख्त रूख अपनाने के संकेत दिए हैं. दंतेवाड़ा में हुए नक्सल ह​मले में बीजेपी विधायक भीमा मंडावी, उनके ड्राइवर और तीन पीएसओ की मौत हो गई. बीते मंगलवार को हुए इस हमले के बाद बुधवार को मृत विधायक सहित शहीदों को श्रद्धांजलि दंतेवाड़ा में दी गई. इस दौरान सीएम भूपेश बघेल भी वहां पहुंचे.

सीएम भूपेश बघेल ने दंतेवाड़ा में श्रद्धांजलि सभा के बाद एक ट्वीट किया है. सीएम भूपेश बघेल ने लिखा- 'यह मंज़र दुखद और त्रासदीपूर्ण है, दंतेवाड़ा नक्सली हमले के शहीदों के बलिदान को शत शत नमन. लाल आतंक के आगे न सरकार घुटने टेकने वाली है और न ही बस्तर की जनता. नक्सलियों की गोली का करारा जवाब मिलेगा. लाल आतंक हारेगा, बस्तर की जनता जीतेगी. लोकतंत्र जीतेगा.'


बता दें कि बीते मंगवलार को दंतेवाड़ा के कुआकोंडा थाना क्षेत्र के नकुलनार मार्ग पर नक्सलियों ने बीजेपी विधायक भीमा मंडावी के काफिले को निशाना बनाकर आईईडी ब्लास्ट किया. इस हमले में भीमा मंडावी सहित पांच की मौत हो गई. बस्तर में 11 अप्रैल को मतदान होना है. इससे पहले नक्सली दहशत फैलाकर चुनाव बहिष्कार की कोशिश कर रहे हैं.
ये भी पढ़ें: क्या इस एक चूक की वजह से नक्सलियों का शिकार बने बीजेपी विधायक भीमा मण्डावी? 


ये भी पढ़ें: बस्तर टाइगर महेन्द्र कर्मा को हराकर पहली बार विधायक बने थे नक्सल हमले में मारे गए भीमा मंडावी 
ये भी पढ़ें: वोटिंग से 36 घंटे पहले दंतेवाड़ा में नक्सली हमला, BJP विधायक की मौत, पांच जवान शहीद   
ये भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव में बस्तर से ग्राउंड रिपोर्ट: 'आजाद देश में आज भी गुलाम हैं आदिवासी' 
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज