होम /न्यूज /छत्तीसगढ़ /

चोरों के मोहल्ले में पहुंची पुलिस, मिली 40 बकरियां, पढ़ें- एक 'बदनाम' गांव की कहानी

चोरों के मोहल्ले में पहुंची पुलिस, मिली 40 बकरियां, पढ़ें- एक 'बदनाम' गांव की कहानी

मुंगेली की लालपुर पुलिस ने बकरी चोरी के मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

मुंगेली की लालपुर पुलिस ने बकरी चोरी के मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले में एक गांव है, जिसे चोरों का मोहल्ला कहा जाता है. इस गांव का नाम भी चोर व चोरी से प्रेरित होकर चिरौटी रखा गया है. इस अजब नाम वाले गांव की गजब कहानी है. आस-पास के इलाकों में अगर किसी की कोई वस्तु चोरी होती है तो उसे ढूंढने सबसे पहले इसी गांव में पहुंचता है. गांव में अचानक ही पुलिस पहुंची तो हैरान रह गई. पुलिस वाले कुछ बकरे और बकरियों की तलाश में इस गांव में पहुंचे थे. वहां उन्हें बकरियां मिल गईं.

अधिक पढ़ें ...

रायपुर/मुंगेली. छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले में एक गांव है चिरौटी. चिरौटी गांव पूरे इलाके में चोरी की वारदातों को अंजाम देने के नाम से मशहूर है. इस गांव के चोरों की चोरी का अंदाज भी अन्य चोरों से अलग है. यही कारण है कि अंदाज जानकार ही पुलिस चोरी की वस्तु जब्त करने चिरौटी पहुंच जाती है. ज्यादातर मामलों में समान की बरामदगी भी कर लेती है. हाल ही में मुंगेली जिले के लालपुर पुलिस को मवेशी चोरी के आरोपियों की गिरफ्तारी में बड़ी सफलता मिली है. लालपुर पुलिस ने तीन आरोपियों की गिरफ्तारी की है. घटना बीते 31 जनवरी की बताई जा रही है.

पुलिस से की गई शिकायत के मुताबिक कुछ लोग बकरी खरीदने के बहाने लालपुर पहुंचे थे. लेकिन उन्होंने बकरियों की कीमत जानबूझकर ऐसी लगाई, जिससे सौदा न हो सके. सौदा नहीं होने पर चोर वापस चले गए. इसके बाद वापस पिकअप वाहन लेकर पहुंचे और 40 से अधिक बकरा बकरी को चोरी कर ले गये. इसके बाद आरोपियों ने चोरी के बकरी को बेच भी दिया. पीड़ित ने लालपुर थाने में मामले की लिखित शिकायत की. इसके बाद एसपीडीआर आंचला ने पुलिस टीम गठित की और पुलिस ने चोरी के स्टाईल से अंदाजा लगाया कि इस तरह की चोरी पथरिया इलाके के चिरौटी गांव के चोर किया करते हैं.

दबिश देकर आरोपियों की गिरफ्तारी
पुलिस ने गांव में दबिश दी और 3 आरोपियों की गिरफ्तारी की. चोरों से 1लाख 40 हजार रुपये नगद चोरी का पिकअप वाहन और 5 मवेशी जब्त की गई. मुंगेली एसपीडीआर आंचला ने बताया कि आरोपी पिकअप वाहन से आये और बकरे बकरी को चुराकर ले गए और बिल्हा में बेच भी दिए. चोरों के गांव के नाम से ये गांव चिरोटी बहुत पहले से बदनाम है और इस गांव के चोर इसी तरीके से चोरी की घटना को अंजाम देते हैं और घटना के बाद गांव में  छिप जाते हैं. पुलिस ने योजनबद्ध तरीके से आरोपियों की गिरफ्तारी की और चोरी में प्रयुक्त वाहन बिक्री की रकम सहित मवेशी की जब्ती करते 3 आरोपियों को जेल भेजा. साथ ही फरार अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है.

Tags: Crime News, Mungeli news today

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर