अपना शहर चुनें

States

सीएम भूपेश बघेल बोले- किसानों से एक बार किया था वादा, अब नहीं होगी कर्जमाफी

मौसम बारिश ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है. क्योंकि बारिश की वजह से खेतों में पक चुकी धान की फसल खराब होने लगी है.(प्रतीकात्‍मक फोटो)
मौसम बारिश ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है. क्योंकि बारिश की वजह से खेतों में पक चुकी धान की फसल खराब होने लगी है.(प्रतीकात्‍मक फोटो)

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने भी कर्जमाफी न करने की बात कह दी है. नगरीय निकाय चुनाव को देखते हुए BJP अब Congress पर हमलावर हो गई है.

  • Share this:
रायपुर/धमतरी. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में कांग्रेस ने किसान कर्जमाफी (Farmer Loan Waiver) के वादे की बलौदत विधानसभा चुनाव में बड़ी जीत हासिल की थी. अब इसी घोषणा पर दिए गए एक बयान के बाद सूबे के राजनीतिक गलियारे में खलबली मच गई है. बता दें कि आबकारी एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा (Kavasi Lakhma) ने कर्जमाफी को लेकर एक बड़ा बयान दिया था. धमतरी (Dhamtari) प्रवास के दौरान उन्होंने कहा था कि अब किसानों की कर्जमाफी नहीं होगी. वहीं, मंगलवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने भी कर्जमाफी नहीं करने की बात कह दी है. मालूम हो कि आने वाले दिनों में नगरीय निकाय चुनाव होने वाला है. माना जा रहा है कि विपक्षी दल इस बयान को राजनीतिक मुद्दा भी बना सकते हैं.

सोमवार को आबकारी एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा धमतरी प्रवास पर थे. चर्चा के दौरान कैबिनेट मंत्री लखमा ने कहा था कि छत्तीसगढ़ में अब किसान कर्जमाफी का दूसरा एपिसोड अब नहीं होगा. उन्होंने कहा कि झूठ बोलना अच्छी बात नहीं है. अब कोई कर्जमाफ नहीं होगा. मंत्री ने कहा कि हम भाजपा जैसे नहीं हैं. किसानों को पूरे 5 साल धान का 2500 रुपए समर्थन मूल्य मिलेगा.





सीएम भूपेश बघेल ने कहा
मालूम हो कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मंगलवार को झारखंड, उत्तर प्रदेश और नई दिल्ली के दौरे पर रवाना हुए. रायपुर एयरपोर्ट पर मीडिया से चर्चा के दौरान सीएम भूपेश बघेल ने कर्जमाफी के मुद्दे पर कहा कि किसानों की कर्जमाफी हो चुकी है. हमने एक बार कर्जमाफी का वादा किया था, बार-बार कर्ज माफी नहीं होगी.



बीजेपी के आरोप पर कांग्रेस का पलटवार 

कर्जमाफी पर सीएम भूपेश बघेल और मंत्री कवासी के बयान के बाद बीजेपी ने इसका पलटवार किया है. इस मसले पर बीजेपी प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव का कहना है कि कांग्रेस ने सत्ता पाने के लिए ही केवल किसानों की कर्जमाफी की घोषणा की थी. पूरे प्रदेश की वित्तीय स्थिति खराब है, इसलिए यह फैसला लिया गया है. बीजेपी प्रवक्‍ता ने कहा कि किसानों के साथ सरकार धोखा कर रही है. कांग्रेस केवल वादे करती है, लेकिन इसे पूरा नहीं करती. कांग्रेस खुद को किसानों की सरकार कहती थी. लेकिन अब किसानों के वादाखिलाफी कर रही है. तो वहीं कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह का कहना है कि कांग्रेस ने एक बार किसानों से कर्जमाफी का वादा किया था, जिसे सरकार ने पूरा कर दिया है. हम बीजेपी की तरह झूठ नहीं बोलते.

कांग्रेस ने किसानों को दिया था ये 'तोहफा'

मालूम हो कि शपथ लेने के कुछ ही घंटों में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किसानों की कर्जमाफी की घोषणा की थी. तकरीबन 16 लाख 65 हजार से अधिक किसानों का 6100 करोड़ रुपए का कर्ज माफ सरकार ने किया था, तो वहीं धान का समर्थन मूल्य 2500 रुपये प्रति क्विंटल करने की बात भी सरकार ने कही थी.

ये भी पढ़ें: 

पुलिस बनने की सनक ने इस शख्स को पहुंचाया सलाखों के पीछे, नकली वर्दी में हुआ गिरफ्तार 

सीडी कांड: निचली अदालत की सुनवाई पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक, नोटिस जारी कर मांगा जवाब 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज