लाइव टीवी

CM भूपेश बघेल से मांगी डेढ़ करोड़ रुपये की फिरौती, आरोपी राजस्थान से गिरफ्तार

Awadhesh Mishra | News18 Chhattisgarh
Updated: January 6, 2020, 1:18 PM IST

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel) से डेढ़ करोड़ रुपये की फिरौती (Ransom) मांगने का मामला सामने आया है.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel) से डेढ़ करोड़ रुपये की फिरौती (Ransom) मांगने का मामला सामने आया है. आरोपी ने पत्र लिखकर सीएम भूपेश (CM Bhupesh) से डेढ़ करोड़ रुपये की फिरौती मांगी थी. फिरौती की रकम नहीं देने पर आरोपी ने सीएम के खिलाफ सीबीआई जांच (CBI Investigation) की धमकी दी थी. आरोपी को छत्तीसगढ़ पुलिस (Chhattisgarh Police) ने राजस्थान (Rajsthan) के झुझनू से गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है. आरोपी को पुलिस रायपुर (Raipur) लाकर पूछताछ करेगी. पूछताछ में कुछ और ​खुलासे होने की संभावना है.

मिली जानकारी के मुताबिक सीएम भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) को हाल ही में धमकी भरा पत्र मिला था. पत्र में आरोपी ने सीबीआई (CBI) जांच की धमकी सीएम भूपेश को दी थी. आरोपी राजस्थान के चिड़ावा कस्बे के रविन्द्र सिंह नाम के व्यक्ति बताया जा रहा है. राज्य की पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. स्थानीय पुलिस की मदद से आरोपी को गिरफ्तार किया गया है.

मंत्री को भी मिली थी धमकी
बता दें कि छत्तीसगढ़ के आबकारी मंत्री कवासी लखमा को भी हाल ही एक युवक ने खुद को सीबीआई अफसर बताकर फोन पर धमकी दी थी. आरोपी युवक को पुलिस ने शिमला से गिरफ्तार किया था. रायपुर सिविल लाइंस पुलिस ने मोबाइल फोन को ट्रैक किया आरोपी युवक की लोकेशन शिमला की मिली और वहीं जाकर उसे दबोचा गया. आरोपी युवक की उम्र महज 21 साल है. उसका नाम अंकुश शर्मा बताया गया. आरोपी ने मंत्री को कॉल कर 2 लाख रुपये की फिरौती मांगी थी.

ये भी पढ़ें:
छत्तीसगढ़ पंचायत चुनाव: यहां मां और बेटी के बीच ही चुनावी दंगल, किसको मिलेगी जीत? 

CAA बवाल: 'गांधी-नेहरू के सपनों को पूरा कर रही है मोदी सरकार, फिर विरोध क्यों?' 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 6, 2020, 1:18 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर