AIIMS में एक्सपायरी डेट का इंजेक्शन लगाने से वेंटिलेटर पर पहुंचा मरीज, खुलासा कर रही News18 की टीम को रोकने की कोशिश

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में एम्स प्रबंधन की लापरवाही के चलते एक मरीज वेंटिलेटर पर चला गया है.

Devwrat Bhagat | News18 Chhattisgarh
Updated: May 5, 2019, 1:12 PM IST
Devwrat Bhagat
Devwrat Bhagat | News18 Chhattisgarh
Updated: May 5, 2019, 1:12 PM IST
छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में एम्स प्रबंधन की लापरवाही के चलते एक मरीज वेंटिलेटर पर चला गया है. एक्सपायरी डेट की 7 इंजेक्शन लगने से अब मरीज की हालत नाजुक बतायी जा रही है. दुर्ग जिले के पाटन से आये जिनेश जैन ने अपने पिता को बेहतर इलाज के लिए एम्स में भर्ती कराया था, जिनेश का आरोप है कि यहां प्रबंधन की लापरवाही ने उनके पिता को वेंटिलेटर पर पहुंचा दिया. मरीज प्रकाश चंद जैन को अस्पताल के ही सरकारी मेडीकल दुकान अमृत फार्मेसी से खरीदी गयी एक्सपायरी डेट की 7 इंजेक्शन लगा दी गयी.

एक्सपायरी डेट का इंजेक्शन लगाने से मरीज की हालत खराब हो गयी है और अभी मरीज जिंदगी और मौत से जूझ रहा है. अपनों को दर्द में जूझता देख जब प्रकाश चंद के बेटे जिनेश मीडिया के सामने आये तब एम्स प्रबंधन ने अपनी ये लापरवाही छिपाने की पूरी कोशिश की. मामले का खुलासा करने पहुंची न्यूज 18 की टीम को वहां गार्ड द्वारा रोकने की कोशिश की गई. कैमरे को बंद कराने का प्रयास ​भी किया गया.



इसके बाद न्यूज़ 18 की टीम जब लापरवाही बरतने वाले अमृत फार्मेसी पहुंची तब वहां के सारे स्टाफ भाग गये. अमृत फार्मेसी की शिकायत जिनेश ने एम्स प्रबंधन से की, लेकिन उनकी ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गयी. न्यूज़ 18 ने एम्स के जिम्मेदारों को भी फोन लगाया लेकिन सब जिम्मेदारी से बचते हुए नज़र आये.
ये भी पढ़ें:

गर्मी की शुरुआत से ही महासमुंद में पानी की किल्लत, अधिकारी कर रहे ये दावे 
Cyclone Fani: छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों में चल सकती है आंधी, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट 
जल्द घोषित हो सकती है PET-PPHT परीक्षा की तिथि, व्यापमं की बैठक में आ सकता है फैसला
Loading...


Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...