लाइव टीवी

पीएल पुनिया देंगे पंचायत चुनाव जीतने का फॉर्मूला, लेंगे पदाधिकारियों की क्लास

Ashraf Kazmi | News18 Chhattisgarh
Updated: January 16, 2020, 4:51 PM IST
पीएल पुनिया देंगे पंचायत चुनाव जीतने का फॉर्मूला, लेंगे पदाधिकारियों की क्लास
पीएल पुनिया ने बताया कि राज्य के सभी मेयर, पालिकाअध्यक्ष, पार्षदों के साथ बैठक करेंगे. आगे कैसे काम करना इसकी भी रणनीति बनाएंगे. (File Photo)

सूबे में चुनावी माहौल के बीच प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया का ये दौरा काफी अहम माना जा रहा है.

  • Share this:
दिल्ली. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में होने वाले पंचायत चुनाव (Panchayat Election) की सरगर्मी तेज हो गई है. पार्टियों ने जीत के लिए अपनी कमर कस ली है. तो वहीं सूबे की सत्ताधारी दल कांग्रेस ने भी पंचायत चुनाव में जीत के लिए अपनी तैयारियां तेज कर ली हैं. जानकारी के मुताबिक, छत्तीसगढ़ में कांग्रेस नेताओं को राज्य के प्रभारी पीएल पुनिया फिर चुनाव में जीत का पाठ पढ़ाने जा रहे हैं. साथ ही पंचायत चुनाव को जीतने का भी फॉर्मूला कांग्रेस पदाधिकारियों को देंगे. सूबे में चुनावी माहौल के बीच प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया का ये दौरा काफी अहम माना जा रहा है.

रायपुर आने वाले हैं पीएल पुनिया

छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया गुरुवार शाम को रायपुर जा रहे हैं. दो दिन के दौरे में निगम अध्यक्षों, पार्षदों और पार्टी नेताओं के साथ बैठक भी करेंगे. पुनिया ने बताया कि भूपेश बघेल की सरकार साल भर पहले बनी थीं. वो गरीब, आदिवासियों और जनता की चुनाव जीत थी. उन्होंने कहा कि लोगों को एहसास हुआ अपनी सरकार बनी है, किसी दूसरे की नहीं है, उन्हें अपनापन मिला.

पीएल पुनिया ने कहा कि सरकार ने आदिवासियों की जमीन लौटाई, वनाधिकार के पट्टे दिए, किसानों का कर्ज माफ किया, बिजली बिल आधे किए गए. सब को एहसास हुआ सरकार ने हमारा ध्यान रखा है. उन्होंने कहा कि लोगों के और सरकार के बीच अपनापन की वजह से 10 नगर निगम के मेयर कांग्रेस के बने हैं. साथ ही नगर पालिका और नगर पंचायत के चुनाव में भी कांग्रेस को जीत मिली है.

बैठक करेंगे पीएल पुनिया
पीएल पुनिया ने बताया कि राज्य के सभी मेयर, पालिकाअध्यक्ष, पार्षदों के साथ बैठक करेंगे. आगे कैसे काम करना इसकी भी रणनीति बनाएंगे. साथ पंचायत चुनाव लड़ने वालों की मदद करने का भी निर्देश देंगे. पूनिया ने कहा कि कांग्रेस नेता एक होकर चुनाव जीते हैं. विधानसभा चुनाव, उप चुनाव और स्थानीय निकाय के चुनाव जीतने का कोई चमत्कार नहीं सिखाया है. बस सबको एक साथ प्लेटफॉर्म पर लाए, किसी में मतभेद या मनमुटाव नहीं रहने दिया.सब ने एक होकर चुनाव जिताया है. भाजपा पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा कि 15 साल रमन सिंह मुख्यमंत्री रहे हैं, इसके बाद भी उनके गृह जिले में भी कांग्रेस की जीत हुई है. भाजपा जनता से दूर हो गई और कांग्रेस से जनता को अपनापन मिला है. इस वजह से निकाय चुनाव में कांग्रेस की जीत हुई है और भाजपा की करारी हार हुई है.

 ये भी पढ़ें: 
पूर्व मंत्री राजेश मूणत की हटाई गई पूरी सुरक्षा, चुनाव हारने के बाद भी मिले थे दो PSO 

 

रमन सिंह बोले- CM भूपेश बघेल को नहीं है NIA कानून की जानकारी

 

 NIA कानून 2008 को छत्तीसगढ़ सरकार ने दी चुनौती, सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की याचिका  

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 16, 2020, 4:51 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर