लाइव टीवी

महापौर चुनाव के लेकर मचा घमासान, कांग्रेस अप्रत्यक्ष प्रणाली पर अड़ी, BJP करेगी यहां शिकायत

News18 Chhattisgarh
Updated: October 15, 2019, 1:00 PM IST
महापौर चुनाव के लेकर मचा घमासान, कांग्रेस अप्रत्यक्ष प्रणाली पर अड़ी, BJP करेगी यहां शिकायत
साल के अंत में होने वाले नगरीय निकाय चुनाव को लेकर छत्तीसगढ़ में राजनीतिक बवाल मचा हुआ है. (demo pic)

समिति द्वारा दिए गए अनुशंसा के आधार पर राज्य सरकार निकाय एक्ट में बदलाव पर विचार सक सकती है. समिति की अनुशंसा पर ही महापौर के चुनाव का फैसला होगा. वहीं सरकार के इस फैसले के बाद विपक्ष में इसका विरोध शुरू हो गया है.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में होने वाले नगरीय निकाय चुनाव (Urban Body Election) में एक बड़े बदलाव की ओर सरकार ने इशारा कर दिया है. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में मुहर लगने के बाद अब छत्तीसगढ़ में भी निकाय चुनाव के दौरान पार्षद महापौर (Mayor) का चुन सकते हैं. गौरतलब है कि शनिवार को सरकार ने मंत्रिमंडलीय उप समिति का गठन कर दिया है. भूपेश सरकार (CM Bhupesh Baghel) के तीन कैबिनेट मंत्रियों को इस कमेटी का सदस्य बनाया गया है. इसी समिति द्वारा दिए गए अनुशंसा के आधार पर राज्य सरकार निकाय एक्ट में बदलाव पर विचार कर सकती है. समिति की अनुशंसा पर ही महापौर के चुनाव का फैसला होगा. वहीं सरकार के इस फैसले के बाद विपक्ष में इसका विरोध शुरू हो गया है.

बता दें कि साल के अंत में होने वाले नगरीय निकाय चुनाव को लेकर छत्तीसगढ़ में राजनीतिक बवाल मचा हुआ है. अप्रत्यक्ष प्रणाली से महापौर चुनाव का मसौदा मंगलवार को तैयार हो सकता है. इसे लेकर मंत्रिमंडलीय उप समिति की एक अहम बैठक होने वाली है. मंत्रालय में तीन सदस्यीय उप समिति की बैठक होगी. बैठक के बाद उप समिति सरकार को अपना रिपोर्ट सौंपेगी. इसी रिपोर्ट के आधार पर सरकार चुनाव प्रणाली तय करेगी. बताया जा रहा है कि समिति द्वारा दी गई अनुशंसा और मसौदे पर कैबिनेट मुहर लगाएगी.



बीजेपी कर रही विरोध

सरकार द्वारा बनाई गई उप समिति की बैठक होने वाली है. महापौर चुनाव पर मंथन होगा और इसके बाद एक रिपोर्ट तैयार किया जाएगा. इस रिपोर्ट के आधार पर सरकार मेयर चुनाव को लेकर फैसला लेगी. सरकार के इस फैसले का बीजेपी ने सीधे विरोध किया है. बीजेपी ने प्रत्यक्ष तौर पर ही महापौर चुनाव कराने की मांग की है. बता दें कि पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह ने इस मामले को लेकर राज्यपाल से मुलाकात भी की है. साथ ही बुधवार को बीजेपी मोतीबाग में धरना प्रदर्शन भी करने वाली है.

chhattisgarh news, raipur news, mayor election in chhattisgarh , change in mayor election process, change in mayor election procedure, congress to change change in mayor election procedure, politics over mayor election procedure, new mayor election procedure in chhattisgarh, छत्तीसगढ़ न्यूज, रायपुर न्यूज, महापौर चुनाव, छत्तीसगढ़ में महापौर चुनाव, महापौर चुनाव का नया नियम, महापौर चुनाव में बदलाव, छत्तीसगढ़ में महापौर चुनाव में बदलाव, छत्तीसगढ़ में महारौप चुनाव की खबर
महापौर चुनाव पर फैसला लेने के लिए शनिवार को सरकार ने मंत्रिमंडलीय उप समिति का गठन किया.


लग रहे ये आरोप
Loading...

महापौर चुनाव को लेकर छत्तीसगढ़ में राजनीतिक गर्मा गई है. कांग्रेस जहां अप्रत्यक्ष चुनाव की वकालत कर रही है, तो वहीं बीजेपी प्रत्यक्ष चुनाव की मांग को लेकर अड़ी है. बीजेपी के आला नेताओं की मानें तो कांग्रेस के सर्वे रिपोर्ट में पार्टी निकाय चुनाव हार रही है. इसलिए ये पैंतरा आजमाया जा रहा है.

chhattisgarh news, raipur news, mayor election in chhattisgarh , change in mayor election process, change in mayor election procedure, congress to change change in mayor election procedure, politics over mayor election procedure, new mayor election procedure in chhattisgarh, छत्तीसगढ़ न्यूज, रायपुर न्यूज, महापौर चुनाव, छत्तीसगढ़ में महापौर चुनाव, महापौर चुनाव का नया नियम, महापौर चुनाव में बदलाव, छत्तीसगढ़ में महापौर चुनाव में बदलाव, छत्तीसगढ़ में महारौप चुनाव की खबर
बीजेपी के आला नेताओं की मानें तो कांग्रेस के सर्वे रिपोर्ट में पार्टी निकाय चुनाव हार रही है. इसलिए ये फैसला लिया गया है. (File Photo)


इस मसले पर कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह का कहना है कि जो जनता चाहती है, वो हमारी सरकार करती है. प्रत्यक्ष चुनाव प्रणाली को लेकर लगातार हमे शिकायत मिल रही थी. काम प्रभावित हो रहा था. इसलिए ये फैसला लिया गया है, ताकि पार्षद और महापौर में समन्वय अच्छा हो. तो वहीं बीजेपी प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव का कहना है कि ये सरकार की सबसे बड़ी नाकामी है कि वो अप्रत्यक्ष प्रणाली से चुनाव क्याों कराना चाहती है. जनता से राय लिया ही नहीं लिया गया. अचानक ये फैसला ले लिया गया. कांग्रेस में हमेशा से समन्वय की कमी रही है.

ये भी पढ़ें: 

चित्रकोट उपचुनाव: बीजेपी में नहीं दिख रहा चुनावी माहौल, प्रचार के नाम पर महज हो रही 'खानापूर्ती'!

अब शराबियों का डेटाबेस तैयार करेगी सरकार, इस वजह से तैयारी होगी ये खास रिपोर्ट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 15, 2019, 12:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...